सार्थक चतुर्वेदी व तपेश भारद्वाज को मिला स्वराज रक्षक सम्मान

नई द‍िल्ली। मथुरा के रहने वाले व यमुना प्रदूषण के खिलाफ प‍िछले एक दशक से लड़ाई लड़ रहे सुप्रीम कोर्ट अध‍िवक्ता सार्थक चतुर्वेदी व तपेश भारद्वाज को स्वराज रक्षक सम्मान से सम्मान‍ित क‍िए गए। इन्हें दिल्ली के कॉन्स्टिट्यूशन क्लब में सम्मानित किया गया। सर्वोच्च न्यायालय के अधिवक्ता सार्थक चतुर्वेदी को मिशन वंदे मातरम फाउंडेशन द्वारा राष्ट्र नायक चंद्रशेखर आज़ाद के बलिदान दिवस पर स्वराज रक्षक सम्मान द‍िया गया।

मिशन वंदे मातरम फाउंडेशन द्वारा देश भर से आये 21 युवाओं को भी अलग अलग क्षेत्रों में उनकी उपलब्धियों के लिये इस सम्मान से नवाजा गया ज‍िन्होंने न्याय, पर्यावरण व सामाजिक कार्यों में अपना उत्कृष्ट योगदान देकर व राष्ट्रीय विचारधारा को अग्रेषित करने के लिए उत्कृष्ट कार्य क‍िया।

Tapesh Bhardwaj received Swaraj Rakshak Award
Tapesh Bhardwaj received Swaraj Rakshak Award

अध‍िवक्ता सार्थक चतुर्वेदी के साथ ही शिक्षा के क्षेत्र में कार्य कर रहे तपेश भारद्वाज को पर्यावरण व सामाजिक कार्यों के लिए सम्मानित किया गया ।

गौरतलब है क‍ि तपेश भारद्वाज व सार्थक चतुर्वेदी ने पर्यावरण से जुड़े यमुना प्रदूषण के मामले को जन आंदोलन से लेकर एन जी टी व सर्वोच्च न्यायालय तक उठाया जिसपर माननीय एन जी टी ने कड़े आदेश भी पारित किए। अधिवक्ता सार्थक चतुर्वेदी ने अपने 12 साल के कानूनी सफर में पर्यावरण, सर्विस, सिविल व क्रिमिनल से जुड़े कई बड़े और चर्चित मामलों में बड़ी उपलब्धियां हासिल कीं।

इस मौके पर दक्षिणी दिल्ली के सांसद रमेश बिधूड़ी ने कहा कि राष्ट्रनायक चन्द्रशेखर आजाद के राष्ट्रप्रेम व बलिदान को व्यर्थ न जाने देंगें, जन जन में उनके देशप्रेम के भाव को अंदर तक भर देंगे। इसी भाव को लेकर मिशन वंदेमातरम फाउंडेशन द्वारा राष्ट्रनायक चन्द्रशेखरआजाद के बलिदान दिवस पर दिल्ली के कॉन्स्टिट्यूशन क्लब डिप्टी स्पीकर हॉल में राष्ट्रीय संगोष्ठी व स्वराज रक्षक सम्मान 2020 समारोह का आयोजन किया गया ।

कार्यक्रम में पूर्व सांसद संत कबीर नगर शरद त्रिपाठी, प्रोफेसर डॉ पी बी शर्मा, कुलपति एमिटी यूनिवर्सिटी, प्रोफेसर आर के खांडल, अनुज अग्रवाल, प्रशांत पटेल, जितेन्द्र तिवारी मुख्य रूप से मौजूद रहे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »