संस्कृति की वेबिनार में बताया, लीडरशिप के लिए क्‍या है जरूरी

मथुरा। संस्कृति विश्वविद्यालय द्वारा ‘फ्यूचर लीडरशिप’ विषय पर ictacademy दिल्ली के सहयोग से एक वेबिनार का आयोजन किया गया। वेबिनार में अंतर्राष्ट्रीय ख्यातिप्राप्त कंपनियों के विशेषज्ञों ने विद्यार्थियों को लीडरशिप किसे कहते हैं और इसको अपने अंदर कैसे विकसित किया जाता है, के बारे में विस्तार से समझाया। विशेषज्ञों ने कहा कि एक अच्छे लीडर के अंदर विषय की जानकारी से उत्पन्न विश्वास और अपनी जानकारी को प्रभावशाली ढंग से प्रस्तुत करने वाला गुण होना बहुत जरूरी है।

वेबिनार के प्रारंभ में संस्कृति विवि के कुलाधिपति सचिन गुप्ता ने वेबिनार में उपस्थित विशेषज्ञों की मौजूदगी पर हर्ष व्यक्त करते हुए कई महत्वपूर्ण विषय उठाए और विद्यार्थियों को सभी विशेषज्ञों की बातों और उनके अनुभवों को ध्यान से सुनकर अपने जीवन में लागू करने के लिए प्रोत्साहित किया। उन्होंने विद्यार्थियों से कहा कि हमारा सीखने का क्रम जीवनभर चलता रहना चाहिए, इससे हम हमेशा अपडेट रहते हैं।

Sanskriti University's webinar: Self-confidence and honesty are essential for leadership
Sanskriti University’s webinar: Self-confidence and honesty are essential for leadership

वेबिनार में वक्ताओं ने कहा कि आप जब भी, जहां भी उपस्थित होते हैं तो अपनी उपस्थिति को कैसे महसूस करा सकते हैं, यह समझना और जानना बहुत जरूरी है। एक अच्छे लीडर के लिए सुनने की सामर्थ्य भी होना बहुत जरूरी है। अपने अंदर सुनने की इच्छा पैदा करें। अपनी उपस्थिति के लिए आपके अंदर वो गुण होना चाहिए जो आपको लोगों के बीच आपके होने का अहसास कराए। लीडरशिप के लिए दूसरा महत्वपूर्ण गुण है, आत्मविश्वास। आत्मविश्वास इस बात का कि आप क्या जानते हैं और क्या नहीं। आपको उस विषय के बारे में बखूबी जानकारी होनी चाहिए जिसपर आप बोल रहे हैं। इसलिए सबसे पहले आपको अपनी और अपने ज्ञान की गहराई के बारे में जानना होगा। अगर आप किसी विषय की प्रारंभिक जानकारी नहीं रखेंगे तो उसके बारे में टेक्निकल और फंक्शनल जानकारी कैसे बता पाएंगे। आपको अपने अंदर स्वयं का नेटवर्क खड़ा करना होगा।

विशेषज्ञों ने विद्यार्थियों को अपने दिमाग का भरपूर उपयोग करने की सलाह दी। अपने दिमाग में उपजे विचारों को मूर्त रूप देने वाला एक अच्छा लीडर बनता है। विचारों को मरने न दें उनपर काम कर मूर्त रूप दें। भविष्य आपका इंतजार कर रहा है। लीडरशिप क्वालिटी आपको वह सब हासिल कराती है जो आप हासिल करना चाहते हैं। प्लान कम और एक्जीक्यूशन ज्यादा होना चाहिए।

’ड्रीम जॉब’ पाने के लिए विशेषज्ञों ने बताया कि एचआर स्किल्स, अपने आप को अपडेट रखने का गुण, तात्कालिक जानकारियां, आपका स्वयं को प्रस्तु करने और बैठने का अंदाज जैसे गुण ड्रीम जाब पाने में मदद करते हैं। वक्ताओं ने कहा कि एक अच्छी लीडरशिप क्वालिटी पैदा करने के लिए समय से सही ढंग से शुरू करने की आदत डालें, अपने लिए क्या सही है, चयन करें, बहुआयामी योग्यता पैदा करें। वक्ताओं ने कहा कि ईमानदारी, निष्ठा और स्थायित्व जैसे गुण अपने अंदर पैदा करें। आपका दृष्टिकोण हमेशा सकारत्मक होना चाहिए। कुछ करने का मौका मिले तो कठिन चुनौती को चुनने से पीछे न हटें। जिम्मेदारी हमेशा महसूस करें और आपके पास क्या है और क्या आप दे रहे हैं इसके बारे में जरूर सोचें। ये सारे गुण आपको लीडर बनाएंगे।

वक्ताओं में ओरेकल की सीनियर मैनेजर डा. कमल दीप पीटर, बजाज आटो लिमिटेड पुणे टेलेंट एक्विजीशन के हेड मुकुंद माधव, इसी कंपनी में की स्टार्टअप लीड कंसलटेंसी रश्मिता एस, एस आर चड्ढा इंडस्ट्री के डिप्टी मैनेजर एचआर कुश सक्सेना, चेतू इंडिया नोएडा के एचआर मनीष त्यागी शामिल थे। वेबिनार में अतिथियों का स्वागत संस्कृति इंजीनिरिंग स्कूल एंड टेक्नालाजी के डीन सुरेश कासवान ने किया। वेबिनार का संचालन संस्कृति विवि की शिक्षिका आइशा जुल्का ने किया।

  • Legend News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *