संजीत हत्‍याकांड: योगी सरकार द्वारा जांच सीबीआई को सौंपने की सिफारिश

कानपुर। उत्तर प्रदेश के कानपुर में हुए संजीत अपहरण और हत्याकांड मामले की जांच के लिए योगी सरकार ने मंजूरी दे दी है। यूपी सरकार ने केंद्र सरकार को पत्र लिखकर सीबीआई से केस की जांच कराने की सिफारिश की है। इधर संजीत की मां-पिता और बहन बर्रा के शास्त्री चौक पर धरना दे रहे हैं। परिवार की मांग है कि संजीत की डेडबॉडी रिकवर की जाए।
संजीत हत्याकांड का पुलिस ने 24 जुलाई को खुलासा किया था। खुलासे के नौ दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस संजीत के शव समेत हत्या से जुड़े किसी भी साक्ष्य को बरामद नहीं कर सकी है। खुलासे के वक्त पुलिस ने जो थ्‍योरी बताई थी उस पर फिर से सवाल उठने लगे हैं। संजीत के परिवार ने पुलिस पर आरोप लगाते हुए कहा कि पुलिस ने जल्दबाजी में खुलासा किया और फर्जी खुलासों में साक्ष्य नहीं मिलते हैं। यदि संजीत के शव को पांडू नदी में फेंका गया तो उसकी हड्डियां तो मिलनी चाहिए।
यह था पूरा मामला
बर्रा थाना क्षेत्र के बर्रा पांच में रहने वाले लैब टेक्निशियन का किडनैप उसके ही दोस्तों ने इसी साल 22 जून को किया था। किडनैपरों ने चार दिनों तक बंधक बनाए रखने के बाद संजीत की हत्या कर दी थी। 26 जून को देर रात शव को बोरे में भर पांडू नदी में डिस्पोज कर दिया था। किडनैपर्स ने 29 जून को संजीत के परिजनों से 30 लाख रुपए फिरौती की मांग की थी। पुलिस ने 24 जुलाई को एक महिला समेत पांच किडनैपर्स को गिरफ्तार किया था। किडनैपर्स ने पुलिस को बताया था कि संजीत की हत्या अपहरण के बाद चौथे ही दिन कर दी थी और शव को पांडू नदी में फेंक दिया था। संजीत हत्याकांड का मास्टरमांइड ज्ञानेंद्र यादव को बताया जा रहा है।
पुलिस को नहीं मिली कोई खास सफलता
संजीत के परिजनों ने बीते 13 जुलाई को फिरौती के 30 लाख रुपयों से भरा बैग गुजैनी हाइवे से रेलवे लाइन पर फेंका था। उस वक्त नीलू मोबाइल फोन पर संजीत के पिता के साथ लाइन पर था। पुलिस हत्यारापियों को लेकर गुजैनी पुल पर पहुंची और कैसे बैग को फेंका गया और कहां गिरा इस संबंध में जानकारी जुटाई। इसके साथ ही पुलिस ने बैग को तलाशने का भी प्रयास किया, लेकिन पुलिस को सफलता नहीं मिली।
यहां हुई थी संजीत की हत्या
किडनैपर्स ने रतनलाल नगर स्थित एक किराये के मकान में संजीत को बंधक बनाकर रखा था। किडनैप के पांचवें दिन ही किडनैपर्स ने संजीत की हत्या कर दी थी। आरोपियों ने बताया कि सभी ने मिलकर रस्सी से संजीत का गला घोंटा था। संजीत की हत्या में जिस रस्सी का इस्तेमाल किया था, पुलिस उसे भी बरामद नहीं कर सकी है। इसके साथ ही किडनैपर्स ने उस मकान में रहने के लिए बिस्तरों का प्रयोग किया था, उन्हें गुजैनी स्थित शराब ठेके के पीछे फेंका था। पुलिस वो बिस्तर भी बरामद नहीं कर सकी है।
पुलिस ने छठे आरोपी को किया गिरफ्तार
पुलिस ने हत्यारोपियों की निशानदेही पर इस घटना से जुड़े छठे आरोपी सिम्मी को गिरफ्तार किया है। जिस मकान में संजीत को बंधक बनाकर रखा गया था, वहां सिम्मी को संजीत की निगरानी के लिए रखा गया था। इसके साथ ही सिम्मी हत्यारोपी रामजी शुक्ला के साथ फिरौती की रकम लेने के लिए गया था। सिम्मी संजीत के घर की रेकी करता था, और हत्यारोपियों को बताता था।
हत्यारोपियों ने क्या अहम जानकियां दीं?
सूत्रों के मुताबिक हत्यारोपियों ने पुलिस को इस केस से जुड़ी कई अहम जानकारियां दी हैं। हत्योपियों ने बताया कि संजीत का ड्यूटी बैग, पर्स, किडनैपर्स ने जिस मोबाइल से फिरौती मांगी थी, उसे गुजैनी के रफाका नाला में फेंका गया था। संजीत की लाश को पांडू नदी में फेंका गया था। इसके साथ ही संजीत के मोबाइल फोन को रामादेवी पुल से झाड़ियों में फेंका गया था। पुलिस के सर्च अभियान में कुछ भी बरामद नहीं हुआ है।
फॉरेंसिक टीम की जांच और आरोपियों के बयानों में समान
सूत्रों के मुताबिक हत्यारोपियों ने बताया था कि रामजी शुक्ला चाकू से सेब काटकर संजीत को खिला रहा था। इसी दौरान संजीत ने पास में रखी चाकू से अपने हाथ की नस काट ली थी। हाथ से खून बंद होने का नाम नहीं ले रहा था। इसके बाद ही सभी ने मिलकर उसकी गला घोंट कर हत्या कर दी थी। बीते मंगलवार को जब फॉरेंसिक टीम जांच के लिए उस मकान पर पहुंची थी। फॉरेंसिक टीम को फर्श, नाली, दीवारों और टॉइलेट पर मानव ब्लड के सैंपल मिले थे।
रामजी शुक्ला को रिमांड पर लेगी पुलिस
संजीत हत्याकांड के आरोपी रामजी शुक्ला कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। रामजी शुक्ला कोविड-19 हॉस्पिटल में भर्ती है। इलाज के बाद रामजी शुक्ला को रिमांड में लेने की तैयारी है, पुलिस को रामजी शुक्ला से घटना की अहम जानकारियां मिल सकती हैं। बताया जा रहा है कि रामजी शुक्ला फिरौती का बैग लेने के लिए गया, इसके साथ ही उसी ने रफाका नाले में संजीत का ड्यूटी बैग, पर्स, बिस्तर फेंके थे।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *