कंगना का नाम लिए बिना संजय बोले, महिलाओं का सम्‍मान करती है शिवसेना

मुंबई। सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में कंगना रनौत और शिवसेना सांसद संजय राउत के बीच वाकयुद्ध बढ़ता जा रहा है। कंगना को वाई श्रेणी सुरक्षा दे दी गई है। इधर संजय राउत ने कहा है कि जो लोग उनके ऊपर महिलाओं का अपमान करने का आरोप लगा रहे हैं, वे लोग मुंबा देवी का अपमान कर रहे हैं।
कंगना रनौत और उनके बीच चल रहे विवाद पर उन्होंने बिना किसी का नाम लिए सफाई दी है। हालांकि उनकी सफाई देने के तरीके पर भी लोग सवाल उठा रहे हैं। शिवसेना सांसद संजय राउत ने ट्वीट किया कि शिवसेना हिंदुत्व की विचारधारा वाली पार्टी है। उन लोगों को महिलाओं का सम्मान करना सिखाया जाता है।
‘महिलाओं के सम्मान के लिए हमेशा लड़ती रहेगी शिवसेना’
संजय राउत ने ट्वीट किया, ‘शिवसेना छत्रपति शिवाजी महाराज और महाराणा प्रताप जैसे हिंदुओं के आदर्श विचारधारा का अनुसरण करती है। उन्होंने हमें महिलाओं का सम्मान करना सिखाया है। हालांकि कुछ लोग यह अफवाह फैला रहे हैं कि शिवसेना ने महिलाओं का जानबूझकर अपमान किया है। जो लोग इस तरह के आरोप लगा रहे हैं, उन्हें यह नहीं भूलना चाहिए कि वह मुंबई और मुंबई की मुंबा देवी का अपमान कर रहे हैं। शिवसेना महिलाओं की गरिमा के लिए लड़ती रहेगी। शिवसेना के महान सुप्रीमो (बाला ठाकरे) ने भी हमें यही सिखाया है।’
‘अहमदाबाद को मिनी पाकिस्तान कहने पर मांगे माफी’
इधर, गुजरात भाजपा ने रविवार को शिवसेना नेता संजय राउत से अहमदाबाद को ‘मिनी पाकिस्तान’ कहने के लिए माफी मांगने की मांग की है। पार्टी प्रवक्ता भरत पंड्या ने राउत के कथित बयान की निंदा की और उसे इस मामले में माफी मांगने को कहा है।
कंगना को मिली Y श्रेणी की सुरक्षा
आपको बता दें की सोमवार को कंगना रनौत को गृह मंत्रालय की तरफ से वाई श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की गई है। कंगना को मुंबई में वापस न आने की मिली तमाम धमकियों के बाद उनके पिता ने हिमाचल प्रदेश सरकार से पुलिस सुरक्षा मांगी थी। वह 9 सितम्बर को मुंबई जाने वाली हैं। अब कंगना ने इस सुरक्षा के लिए ट्वीट कर अमित शाह को धन्यवाद कहा है और लिखा- ये प्रमाण है कि अब किसी देशभक्त आवाज़ को कोई फ़ासीवादी नहीं कुचल सकेगा।
कंगना के पिता ने की थी बेटी के लिए सुरक्षा की मांग
बता दें कि कंगना ट्विटर पर आने के बाद से ही एक बार फिर से चर्चा में हैं। मुंबई पुलिस को लेकर बयान के बाद से कंगना को लेकर शिवसेना हमलावर हो गई है। शिवसेना ने कंगना को लेकर अपने तेवर काफी तीखे कर लिए हैं और इन हालात को देखते हुए कंगना के पिता ने हिमाचल प्रदेश सरकार से पुलिस सुरक्षा की मांग की थी। अब खबर है कि गृह मंत्रालय की ओर से अब कंगना को वाई श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की गई है।
11 सुरक्षाकर्मी की फौज, जिसमें कमांडो और पीएसओ भी
बताना चाहेंगे कि Y कैटिगरी की सुरक्षा व्यवस्था में देश के वो वीआईपी लोग आते हैं, जिनको इसके तहत 11 सुरक्षाकर्मी मिले होते हैं, जिनमें 1 या 2 कमांडो और 2 पीएसओ भी शामिल होते हैं।
कंगना ने कहा, भारत की एक बेटी के वचनों का मान रखा
कंगना ने खुद को मिली इस सुरक्षा को लेकर खुशी जताते हुए गृह मंत्री अमित शाह को टैग करते हुए लिखा, ‘ये प्रमाण है कि अब किसी देशभक्त आवाज़ को कोई फ़ासीवादी नहीं कुचल सकेगा, मैं अमित शाह जी की आभारी हूं। वो चाहते तो हालातों के चलते मुझे कुछ दिन बाद मुंबई जाने की सलाह देते मगर उन्होंने भारत की एक बेटी के वचनों का मान रखा, हमारे स्वाभिमान और आत्मसम्मान की लाज रखी, जय हिंद।’
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *