भारी डिस्काउंट के बाद भी नहीं बढ़ी ऑफलाइन रिटेलर्स की बिक्री

ऑफलाइन इंडस्ट्री की एंड-ऑफ-द-सीजन-सेल्स (ईओएसएस) पिछले साल से भी खराब रही। रिटेलर्स का कहना है कि भारी डिस्काउंट के बाद भी बिक्री नहीं बढ़ी। मार्क्स एंड स्पेंसर, प्यूमा, लाइफस्टाइल और शॉपर्स स्टॉप सहित अन्य रिटेलर 50-70 प्रतिशत तक डिस्काउंट दे रहे हैं। इसमें से कई अतिरिक्त कैशबैक भी ऑफर कर रहे हैं। एथनिक-वियर ब्रांड बीबा के मैनेजिंग डायरेक्टर सिद्धार्थ बिंद्रा के मुताबिक ‘कंज्यूमर सेंटीमेंट कमजोर होने से यह बिक्री के लिहाज से सबसे खराब सीजन रहा।’ हालांकि उन्होंने बिक्री के आंकड़ों की जानकारी नहीं दी।
एक ग्लोबल फैशन ग्रुप के सीईओ ने बताया कि पिछले साल जुलाई-अगस्त के डिस्काउंट पीरियड के मुकाबले इस साल एंड-ऑफ सीजन सेल्स में इंडस्ट्री की आमदनी में 12-15 प्रतिशत की गिरावट आई है।
उन्होंने नाम छापने की शर्त पर कहा, ‘कंजम्पशन बिल्कुल डाउन हो गया है। यह भी विडंबना है कि भारी डिस्काउंट के बावजूद बिक्री में कोई इजाफा नहीं हो रहा है। यह दौर लंबा चलने वाला है।’
पिछले वीकेंड पर दुबई की लाइफस्टाइल कई प्रोडक्ट्स पर 50-70 प्रतिशत तक डिस्काउंट देने के साथ एचडीएफसी और स्टैंडर्ड चार्टर्ड कार्ड से पेमेंट करने पर 10 प्रतिशत तक अतिरिक्त कैशबैक भी दे रही थी। एमएंडएस ने ग्राहकों को लुभाने के लिए वुमनवियर पर 60 प्रतिशत फ्लैट और 15 प्रतिशत कूपन के जरिए डिस्काउंट देने के मैसेज भेजे थे। लाइफस्टाइल इंटरनेशनल के सीईओ ने कहा, ‘पिछले साल के ईओएसएस के मुकाबले लाइक-टू-लाइक सेल्स जस की तस है।’ रिटेलर्स का कहना है कि उनके पास दिसंबर से ही काफी ज्यादा स्टॉक बचा हुआ है और अर्थव्यवस्था की सुस्त रफ्तार से परेशानी और बढ़ा दी है। एक अन्य ग्लोबल फैशन ब्रांड के हेड ने कहा, ‘दिसंबर से कंजम्पशन पर दबाव है। अधिकांश बड़े ब्रांड्स की बिक्री सुस्त है।’ ई-कॉमर्स कंपनियां सालभर डिस्काउंट देती हैं। इस वजह से ऑफलाइन स्टोर के कुछ खास मौकों पर भारी डिस्काउंट देने से ज्यादा फर्क नहीं पड़ रहा है। अब ऑफलाइन रिटेलर भी पूरे साल छूट देने का विकल्प तलाश रहे हैं। रिटेलर दिसंबर के बाद से ही ग्राहकों को लुभाने के लिए वन-डे फ्लैट 50 प्रतिशत सेल्स या मिड-सीजन सेल्स जैसे डिस्काउंट दे रहे हैं। ऑफलाइन रिटेलर परेशान हैं और उम्मीद कर रहे हैं कि सुस्ती का असर उनकी फेस्टिव सीजन की बिक्री पर न पड़े। यह सितंबर में ओणम के साथ शुरू होगा और क्रिसमस तक चलेगा। बीबा के बिंद्रा ने कहा, ‘हम उम्मीद कर रहे हैं कि सुस्ती से त्योहारी सीजन खराब न हो, लेकिन फिलहाल राहत का कोई संकेत नहीं मिल रहा है।’
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »