ऑक्सीजन स्तर बढ़ाने के लिए सद्गुरु ने बताए सरल योग अभ्यास

देश में कोविड-19 के संकट के बीच ईशा फाउण्डेशन के सद्गुरु जग्गी वासुदेव ने ऑक्सीजन स्तर को बढ़ाने और प्रतिरोध क्षमता को दृढ़ करने के लिए सरल योग अभ्यास बताए।

भारत में कोविड-19 की दूसरी लहर से बुधवार को 3 लाख से ज्यादा मामले पाए जाने सेस्वास्थ्य उद्योग पर भारी दबाव पड़ा है और कई मरीजों को उचित देखभाल और इलाज नहीं मिल रहा है। इस समय एक मजबूत इम्यून सिस्टम और अच्छी तरह काम करने वाले श्वसन तंत्र का होना महत्वपूर्ण हैक्योंकि कोविड से प्रभावित मध्यम और तीव्र लक्षणों वाले लोग सांस लेने में कठिनाई महसूस कर रहे हैं।

सद्गुरु के यूट्यूब चैनेल पर साझा किए गए एक वीडियो में ईशा फाउण्डेशन के संस्थापकऑक्सीजन स्तर और इम्यून सिस्टम को बेहतर बनाने के लिएसाष्टांगमकरासन और सिम्ह क्रिया जैसे कुछ सरल योगाभ्यास सिखा रहे हैं।

साष्टांग एक ऐसा आसन या योग मुद्रा है जिसमें शरीर जमीन से आठ बिंदुओं पर संपर्क बनाकर संतुलित होता है। इस आसन में शरीर का पूरा फेफड़ा तंत्र एक अनोखे तरीके से काम करता है… इस प्रक्रिया में माथासीनादोनों हाथदोनों घुटनेऔर पैरों के अंगूठे जमीन को छूते हैं,’ सद्गुरु समझाते हैं।

अगर आप इसे दिन में 4-5 बार करते हैं तो आपका ऑक्सीजन स्तर यकीनन बढ़ जाएगा। इसके बाद सिम्ह क्रिया कीजिए ताकि आपका इम्यून सिस्टम बेहतर काम करे,’ आध्यात्मिक गुरु ने आगे बताया।

सद्गुरु के अनुसार सिम्ह क्रिया आपके श्वसन तंत्र और इम्यून सिस्टम को मजबूत करती हैफेफड़ों की क्षमता को बढ़ाती हैऔर इंसान को मौजूदा संकट को सकारात्मक तरीके से संभालने के लिए तैयार करती है। आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय ने हाल में अपने स्टाफ को शक्तिशाली’ सिम्ह क्रिया करने की सलाह दी है।

इस तीन मिनट के योग अभ्यास को कोई भी कर सकता हैजिसमें गर्भवती महिलाएं और अस्थमामाइग्रेनमधुमेहउच्च रक्तचाप और हृदय रोग जैसी पुरानी बीमारियों या मेडिकल दशाओं से पीड़ित लोग भी शामिल हैं।

जर्नल ऑफ आल्टरनेटिव एंड कॉमप्लिमेंटरी मेडिसिन (JACM) में छपे एक शोध के अनुसारजिन प्रतिभागियों ने सिम्ह क्रिया का अभ्यास कियाउनमें से अधिकतर ने अभ्यास के बाद अधिक शांतिआशावानऔर सहज महसूस किया।

विशाखापट्टनम के सेवेन हिल्स हास्प्टिल केन्यूरोसर्जरी एंड स्पाइन डिपार्टमेंट के डाक्टर पीवी रमणा ने सिम्ह क्रिया करने के अपने अनुभव को साझा किया। मैं कोविड-19 संकट की शुरुआत से ही सिम्ह क्रिया का अभ्यास कर रहा हूं। इस प्रक्रिया के नियमित अभ्यास से फेफड़ों की क्षमताऑक्सीजन सचुरेशन और इम्यूनिटी में सुधार होगा। मैंने जो सबसे महत्वपूर्ण लाभ अनुभव किया है वह है मानसिक तनाव में कमी। मैं आपसे सिम्ह क्रिया का नियमित अभ्यास करने की सिफारिश करता हूं।

ऑल इंडिया इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज़ (AIIMS) की डाक्टर श्रुति गैरोला ने साझा किया कि कैसे सिम्ह क्रिया ने उनकी श्वसन प्रणाली को बेहतर बनाने में मदद की। क्रिया पूरी करने के तुरंत बाद मुझे एक आरामदेह असर महसूस हुआ। अब मैं महसूस करती हूं कि मेरी श्वास नली अधिक साफ है,’ उन्होंने कहा।

योग अभ्यासों के प्रदर्शन वीडियो को देखें:

https://www.youtube.com/watch?v=ARCqcUXtk98 

डाक्टर सिम्ह क्रिया करने की सलाह देते हैंउनके दिए प्रमाणों को देखें:

Dr PV Ramana Testimonial
Dr Shruti Gairola Testimonial

 

सिम्ह क्रिया पर प्रकाशित शोध अध्ययन:

Feasibility Study on Simha Kriya
Simha Kriya Potentials

  • Legend News
50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *