Garib Rath एक्सप्रेस में डकैती, हथियारबंद दस बदमाशों का धावा

नई दिल्‍ली। हरियाणा के रोहतक में हथियारबंद दस बदमाशों ने Garib Rath एक्सप्रेस पर धावा बोल दिया। ट्रेन रोहतक स्टेशन से बुधवार तड़के 2:58 बजे रवाना हुई गरीब रथ एक्सप्रेस की चेन पुलिंग कर कोच नंबर जी-9 में हथियारों से लैस नकाबपोश 10 बदमाशों ने मकड़ौली के पास धावा बोल दिया।
कोच में सवार डिप्टी चीफ टिकट इंस्पेक्टर (सीटीआई) को तमंचे के बल पर बंधक बनाया और राजस्थान के दौसा में तैनात एडीजे समेत 12 यात्रियों से उनके ब्रीफकेस खुलवाकर डकैती अंजाम दी। डकैतों ने यात्रियों से 1.86 लाख की नगदी, डायमंड व सोने के आभूषण लूट लिए। जब तक चेन पुलिंग से रुकी ट्रेन दोबारा शुरू होती और जीआरपी पहुंच पाती, डकैत वारदात को अंजाम देकर फरार हो गए। जीआरपी के एएसआई व कांस्टेबल ने पीछा किया तो डकैतों ने उन पर पथराव कर दिया।

अजमेर से चंडीगढ़ जाने वाली गरीब रथ एक्सप्रेस संख्या 12983 मध्यरात्रि 2:28 बजे रोहतक स्टेशन पर आती है। मंगलवार की रात लेट होने की वजह से रोहतक स्टेशन पर 2:53 बजे आई। पांच मिनट के ठहराव के बाद 2:58 बजे चंडीगढ़ के लिए रवाना हुई। बमुश्किल ट्रेन दो मिनट चली होगी तभी ट्रेन में पहले से सवार डकैतों के साथी ने चेन पुलिंग कर दी। इसके बाद कोच नंबर जी-9 में करीब 10 डकैत सवार हो गए।

इस दौरान कोच में सवार डिप्टी सीटीआई महेश चंद्र कुछ समझ पाते डकैतों ने तमंचे के बल पर उन्हें बंधक बना लिया और लूटपाट शुरू कर दी। डकैतों ने कोच में सवार राजस्थान के दोसा में तैनात एडीजे अंचला आर्य समेत 12 यात्रियों को शिकार बनाया। लुटेरों ने सभी यात्रियों के बैग व ब्रीफकेस खुलवाकर नकदी व जेवरात लूटे।

वारदात के बाद डकैती ट्रेन से उतरकर भागने लगे तो ट्रेन की सुरक्षा में तैनात जीआरपी के एएसआई जय भगवान व कांस्टेबल रमेश ने पीछा किया। जिस पर डकैतों ने पथराव शुरू कर दिया।

घने कोहरे की वजह से रास्ता नहीं दिखने पर दोनों पुलिस कर्मियों वापस आ गए। उन्होंने तत्काल जीआरपी रोहतक और मुख्यालय अंबाला को ट्रेन में डकैती की सूचना दी। दिन निकलने तक जीआरपी और आरपीएफ के अधिकारी रोहतक पहुंचे।

उन्होंने मकड़ौली रेलवे स्टेशन के नजदीक वारदात स्थल का मुआयना किया। मामले की जांच के लिए जीआरपी व आरपीएफ की चार-चार टीमें गठित कर दी गई। वहीं, जीआरपी व आरपीएफ के उच्चाधिकारियों ने रोहतक एसपी के साथ मिलकर अलग से एक स्पेशल टीम गठित की है।

वहीं, ट्रेन के चंडीगढ़ पहुंचने पर डिप्टी सीटीआई मिट्ठू शर्मा ने जीआरपी में ट्रेन के कोच नंबर जी-9 में डकैती की रिपोर्ट दर्ज करवाई। चंडीगढ़ जीआरपी ने जीरो एफआईआर दर्ज करके रोहतक जीआरपी के पास भेज दी है। इसके साथ ही डिप्टी सीटीआई ने सभी पीड़ितों को लेकर थाने पहुंचे, जिनसे पुलिस ने पूछताछ की।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »