सेना के लिए Rucksack बनाएगी वाइल्डक्राफ्ट इंडिया, रक्षा मंत्रालय से करार

नई द‍िल्ली । भारतीय सेना के जवानों के ल‍िए नई तकनीक से लैस Rucksack (पिठ्ठू बैग) को लेकर रक्षा मंत्रालय ने ट्रेक-ट्रैवल परिधान कंपनी वाइल्डक्राफ्ट इंडिया से करार क‍िया है। अब इन Rucksack में पहले से ज्यादा जगह होगी साथ ही यह कठिन परिस्थितियों और मौसम में जवानों की मददगार भी होंगी जो सैनिकों को बीहड़ इलाकों में सहायता प्रदान करेंगी।

भारतीय सेना की एलीट कमांडो यूनिट और जवान लंबे मिशन पर जाने के लिए इस तरह के Rucksack (बैग्स) का इस्तेमाल करते हैं। भारतीय रक्षा मंत्रालय लंबे समय से सेना के लिए एक उन्नत किस्म के बैग की तलाश कर रहा था।

इकोनॉमिक टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, यह टेंडर आउटडोर गियर और ट्रेक-ट्रैवल परिधान कंपनी वाइल्डक्राफ्ट इंडिया को द‍िए जाने के पीछे बताया जा रहा है कि बंगलूरू की यह कंपनी पिछले पांच साल से रक्षा मंत्रालय के साथ बातचीत कर रही थी।

वाइल्डक्राफ्ट इंडिया के कोफाउंडर सिद्धार्थ सूद के अनुसार, हमने भारतीय सेना के लिए रूकसैक बनाने का मंत्रालय से कई मिलियन डॉलर का ऑर्डर प्राप्त किया है।

उन्होंने बताया कि इन बैग्स की मदद से भारतीय जवान चुनौतीपूर्ण इलाके में अधिक से अधिक समय बिता सकते हैं। सेना को इसकी सप्लाई 2020 से शुरू कर दी जाएगी।

सिद्धार्थ सूद ने कहा कि भारत में बैग उद्योग दो बिलियन यूएस डॉलर का है। जो हर साल 7 से 10 फीसदी की दर से बढ़ रहा है। पर्यटन के क्षेत्र में विकास की दर भी लगभग यही है।

पड़ोसी देशों के संभावित खतरों को देखते हुए रक्षा मंत्रालय सेना के आधुनिकीकरण पर जोर दे रहा है। इसी क्रम में सुरक्षाबलों के लिए उन्नत हथियार और साजो-सामान को फास्ट ट्रैक प्रक्रिया के तहत खरीदा जा रहा है।

– एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *