RSS ने BJP को किया आगाह: आरक्षण खत्‍म करने को लेकर फैलाई जा रही है अफवाह

नई दिल्‍ली। 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ RSS ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के शीर्ष नेतृत्व को आगाह किया है। कहा गया है कि देशभर में बड़े पैमाने पर ‘झूठी खबर’ फैलाई जा रही है कि केंद्र सरकार आने वाले दिनों में SC/ST को मिलने वाला कोटा (आरक्षण) खत्म करने वाली है। संघ ने इससे जुड़ी एक रिपोर्ट शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और BJP अध्यक्ष अमित शाह के साथ साझा की है। संघ का दावा है कि उन्होंने ये जानकारी अपने देशभर में फैले नेटवर्क के जरिए जुटाई है।
संघ का दावा है कि पीएम मोदी ने भी इस रिपोर्ट पर संज्ञान लिया है। वहीं सूरजकुंड में हुई संघ की बैठक में मौजूद अमित शाह ने भी इस ‘रिपोर्ट’ का जिक्र किया। शाह ने माना कि विपक्षी पार्टियों का यह एजेंडा BJP के लिए चुनौती है लेकिन पार्टी इससे निपटने के लिए जल्द ही कोई प्लान बनाएगी। बता दें कि RSS की उस बैठक में संघ के दूसरे नंबर के नेता माने जाने वाले सरकार्यवाह सुरेश राव जोशी (भैयाजी जोशी) के साथ सह सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबोले और सह सरकार्यवाह डॉक्टर कृष्ण गोपाल ने भी हिस्सा लिया। वहां RSS के कुछ अधिकारियों के अलावा संघ से बीजेपी में भेजे गए करीब 60 संगठन मंत्रियों को बुलाया गया था। कार्यक्रम में बीजेपी ने 2019 के चुनाव में 300 से अधिक सीटें जीतने का लक्ष्य तय किया है।
कार्यक्रम में विपक्षी पार्टियों द्वारा किए जा रहे महागठबंधन का भी जिक्र हुआ। उस पर संघ ने कहा कि इसका असर काफी कम जगहों पर देखने को मिलने वाला है। बता दें कि कार्यक्रम के बाद पीएम मोदी ने संघ और बीजेपी के कुछ नेताओं को अपने आवास पर रात्रि भोज के लिए बुलाया था। इसमें सरकार्यवाह भैयाजी जोशी, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और बीजेपी के राष्ट्रीय संगठन मंत्री रामलाल के अलावा कई अन्य भी शामिल थे।
बता दें कि संघ और BJP के संगठन मंत्रियों के बीच यह बैठक हर साल होती है। बैठक में पार्टी और इसके वैचारिक मार्ग निर्देशक के बीच बेहतर एवं प्रभावी समन्वय के लिए एक खाका तैयार किया गया। साल के अंत में विभिन्न राज्यों में विधानसभा चुनाव हैं और अगले साल लोकसभा चुनाव होना है, ऐसे में हर राज्य से आए पार्टी के संगठन मंत्री ने अपने-अपने क्षेत्र में अपने कामकाज के बारे में ब्योरा दिया।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »