RSS ने डॉ. कृष्णगोपाल से एक बड़ी जिम्‍मेदारी छीन अरुण कुमार को सौंपी

बदलाव सिर्फ सरकार के भीतर ही नहीं देखा जा रहा है, अब बदलाव संघ में भी देखने को मिल रहा है। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ RSS ने एक दिन पहले संगठनात्मक बदलाव करते हुए अरुण कुमार को संघ का समन्वयक बनाया है।
राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ RSS और बीजेपी के बीच संपर्क और समन्वय का काम अब अरुण कुमार देखेंगे जिसकी जिम्मेदारी पहले सहकार्यवाह डॉ. कृष्णगोपाल के पास थी। संघ के भीतर इस महत्वपूर्ण बदलाव को यूपी चुनाव से भी जोड़कर देखा जा रहा है।
यूपी चुनाव से पहले बदलाव के क्या संकेत
अभी सरकार के भीतर भी कई बदलाव देखने को मिला। कई नए मंत्री बने तो वहीं कई मंत्रियों की छुट्टी भी हुई। इस बदलाव में यूपी चुनाव के समीकरण को भी ध्यान में रखा गया है। यूपी चुनाव से पहले संघ के भीतर भी इस बदलाव को बेहद अहम माना जा रहा है। यूपी का चुनाव बीजेपी और संघ के लिए बेहद अहम है। देश के सबसे बड़े सियासी सूबे से किसी भी प्रकार का वो नियंत्रण नहीं खोना चाहेगी। बीजेपी का इस प्रदेश में सरकार का होना खास मायने रखता है और संघ भी इससे वाकिफ है। बंगाल चुनाव हार के बाद कई रणनीति में बदलाव देखने को मिल रहा है और संघ के भीतर यह बदलाव भी चुनाव से पहले काफी अहम है।
बेहद अहम जिम्मेदारी
इस वक्त केंद्र से लेकर देश के कई राज्यों में बीजेपी की सरकार है। संघ सरकार पर नहीं लेकिन बीजेपी पर खासा नियंत्रण रखता है। वहीं आरएसएस बीजेपी सरकारों के कामकाज पर पर्याप्त नजर रखता है। इसके लिए बकायदा बैठकें भी आयोजित की जाती हैं। बीजेपी और संघ के बीच समन्वय की जिम्मेदारी बेहद महत्वपूर्ण मानी जाती है। भारतीय जनता पार्टी के भीतर संघ की राय की काफी अहमियत होती है। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और बीजेपी के बीच संपर्क सूत्र के तौर पर समन्वयक को देखा जाता है। संघ अपनी किसी भी बात या मंशा को समन्वयक के जरिए भाजपा नेतृत्व को बताता है।
महत्वपूर्ण फैसले में निर्णायक भूमिका
अरुण कुमार ने कृष्ण गोपाल का स्थान लिया है, जो 2015 से इस जिम्मेदारी को संभाल रहे थे। कृष्ण गोपाल ने सुरेश सोनी का स्थान लिया था, जिन्होंने अटल बिहारी वाजपेयी सरकार के बाद करीब एक दशक तक समन्वय की जिम्मेदारी संभाली थी। सोनी को प्रभावी समन्वयक के रूप में देखा जाता है। उन्होंने 2014 के लोकसभा चुनावों के दौरान नरेंद्र मोदी को भाजपा की ओर से प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित करवाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *