जयपुर में RSS को पथ संचलन की अनुमति नहीं मिली, BJP ने बताया पूर्वाग्रह

विजयादशमी के अवसर पर हर साल राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की तरफ से देश के विभिन्न प्रांतों में पथ संचलन निकाला जाता है। राजधानी जयपुर में भी RSS के कार्यकर्ताओं की ओर से पथ संचलन निकाला जाता रहा है लेकिन इस बार कोरोना की तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए जयपुर पुलिस कमिश्नर ने आरएसएस को पथ संचलन की इजाजत नहीं दी।
पिछले वर्ष 2020 में भी कोरोना की वजह से RSS को पथ संचलन की अनुमति नहीं मिली थी। पथ संचलन की अनुमति नहीं मिलने पर भाजपा नेताओं ने राज सरकार के खिलाफ काफी आक्रोश जताया है। पूर्व मंत्री अरुण चतुर्वेदी ने कहा कि स्वयं मुख्यमंत्री और कांग्रेस के नेता लगातार धरना प्रदर्शन कर रहे हैं तो RSS के पथ संचलन को क्यों रोका?
कांग्रेसी कर रहे धरना प्रदर्शन तो RSS को पथ संचलन की अनुमति क्यों नहीं
भाजपा नेता अरुण चतुर्वेदी ने कहा कि केंद्र सरकार की नीतियों के खिलाफ कांग्रेस राजस्थान में आए दिन धरना प्रदर्शन करती है। कई धरना प्रदर्शनों में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सहित तमाम मंत्री और विधायक शामिल होते हैं। सैकड़ों कार्यकर्ता भी एकत्रित होते हैं, तब कोरोना की गाइडलाइन याद क्यों नहीं आती।
उन्होंने कहा कि फरवरी में बीकानेर और चित्तौड़गढ़ में किसान सभाओं का आयोजन किया गया जहां हजारों की भीड़ एकत्रित हुई। उस समय कोरोना की गाइडलाइन याद क्यों नहीं आई।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *