Vrindavan में संघ की समन्वय बैठक, मोहन भागवत से मिले सीएम योगी व डिप्‍टी सीएम मौर्य

वृंदावन। Vrindavan में चल रही राष्‍ट्रीय स्‍वयं सेवक संघ की अखिल भारतीय समन्वय बैठक में प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ आज सुबह करीब 11 बजे हेलीकॉप्टर से वृंदावन पहुंचे। वृंदावन के केशवधाम में चल रही राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की बैठक में हिस्सा लेने के लिए हैलीपैड से मुख्यमंत्री का काफिला सीधे केशवधाम में प्रवेश कर गया। उनके साथ डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या और डॉ. दिनेश शर्मा भी केशवधाम पहुंचे हैं।

उत्तर प्रदेश सरकार के प्रवक्ता, ऊर्जामंत्री और मथुरा-वृन्दावन के विधायक श्रीकांत शर्मा भी केशवधाम में मुख्यमंत्री के साथ हैं। केशवधाम में प्रवेश के दौरान मुख्यमंत्री ने हाथ हिलाकर लोगों का अभिवादन स्वीकार किया।
शुक्रवार से मथुरा में शुरू हो चुकी है। इस बैठक में सीएम योगी ने के सरसंघचालक मोहन भागवत से मुलाकात की। दोनों नेताओं के बीच एकांत में करीब एक घंटे तक बात-चीत चली। उन्होंने भाजपा की आंतरिक राजनीति और उप्र के हालात पर चर्चा किए। सीएम के अलावा डिप्टी सीएम केशव प्रसाद और ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने भी मोहन भागवत से मुलाकात की। सीएम योगी आज सुबह करीब 11 बजे हेलीकॉप्टर से वृंदावन पहुंचे थे।
संघ प्रमुख मोहन भागवत के अलावा संघ परिवार के 35 आनुषांगिक संगठन पदाधिकारी भी केशवधाम में पहुंचे चुके हैं। संघ परिवार वर्ष 2019 को केंद्र में रखकर संगठन, सुरक्षा और आर्थिक पहलुओं पर यहां मंथन करेगा।

2019 की रणनीति-
बैठक में भाग लेने के लिए संघ प्रमुख मोहन मधुकर भागवत 29 अगस्त को वृंदावन पहुंचे थे। समन्वय बैठक से पूर्व संघ प्रमुख ने आनुषांगिक संगठनों के पदाधिकारियों से रणनीति पर चर्चा की। समय-समय पर विभिन्न मुद्दों को लेकर आनुषांगिक संगठन पार्टी लाइन से हटकर बोलते दिखते हैं, जिससे अक्सर भाजपानीत सरकारों के लिए मुश्किलें खड़ी होती हैं।

इस बैठक में इन बातों पर चर्चा होगी कि इन संगठनों ने साल भर क्या काम किया, पिछले साल जो लक्ष्य दिया गया था, उसमें कितना कार्य पूरा हुआ और उन्हें क्या परेशानियां पेश आईं। ऐसे में केरल में संघ कार्यकर्ताओं पर हमले और उनकी हत्या की घटनाएं निश्चित तौर पर उठेंगी। इसके अलावा स्वदेशी जागरण मंच चीन से जुड़े विषयों को उठा सकते हैं क्योंकि उन्होंने देश में चीनी वस्तुओं के बहिष्कार का कार्यक्रम आयोजित किया था।

Vrindavan बैठक में सेवा भारती, बनवासी सेवा आश्रम, विहिप, एबीवीपी, किसान संघ, भारतीय मजदूर संघ जैसे संगठन हिस्सा लेंगे।

-Legend News