जानवरों के साथ दुर्व्यवहार देखकर रुह कांप जाती है: रवीना टंडन

Raveena-Tandon
जानवरों के साथ दुर्व्यवहार देखकर रुह कांप जाती है: रवीना टंडन

मुंबई। रवीना टंडन इन दिनों अपनी फिल्म ‘मातृ’ का प्रोमोशन कर रही हैं और वह बार-बार इस बात को दोहरा रही हैं कि वह ऐसे लोगों का माइंडसेट ही नहीं समझ पातीं, जो बलात्कार करते हुए थोड़ा भी नहीं घबराते।

रवीना का मानना है कि बच्चे हर इंसान की इज्जत करें, इसके लिए यह भी जरूरी है कि वह बचपन से सिर्फ इंसान की नहीं, बल्कि जानवरों या पौधों हर किसी की रिस्पेक्ट करें। रवीना कहती हैं कि उनकी रुह कांप जाती है, जब वह किसी बच्चे को देखती हैं कि वह जानवरों को ऊपर से नीचे फेंक देते हैं और इस मोमेंट को एंजॉय करते हैं। वह इन चीजों को देख कर खुश होते हैं। लेकिन रवीना का मानना है कि बच्चों को उसी वक्त रोकना-टोकना चाहिए। वरना, आगे चल कर वही अपराधी बन जाते हैं।

रवीना का यह भी मानना है कि स्ट्रीट डॉग के साथ भी बुरा बर्ताव बच्चे करें तो उन्हें रोकें। बकौल रवीना मैं जब यह सब सामने देखती हूं। इंटरनेट पर देखती हूं लोग इसे शेयर भी करते हैं तो चौंक जाती हूं कि किसी को कष्ट देना, कैसे किसी के लिए मनोरंजन का साधन बनता है। मैं इन बातों का ख्याल हमेशा अपने बच्चों के साथ जरूर रखती हूं और उन्हें हमेशा जानवरों की इज्जत करना सिखाती हूं।

रवीना ने यह भी बताया कि उन्हें ‘गुलाब गैंग’, ‘चश्मेबद्दूर’, ‘क्या कूल हैं हम’ जैसी फिल्में आॅफर हुई थीं। लेकिन वह वैसी ही फिल्में करना चाहती हैं, जिनमें उन्हें भरोसा हों। आपको बता दें कि, रवीना की फिल्म ‘मातृ’ 21 मई को रिलीज़ होने वाली है। -Agency

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *