राबर्ट वाड्रा ने ED के कब्जे वाले दस्तावेजों की कॉपी मांगी, कोर्ट पहुंचे

नई दिल्ली। Robert Vadra ने शनिवार को दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट में एक याचिका दाखिल की है जिसमें Robert Vadra ने कोर्ट से गुहार लगाई है कि मनी लांड्रिंग से जुड़े मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के कब्जे में लिए गए दस्तावेजों की एक कॉपी उन्हें दी जाए। कोर्ट ने इस मामले में ईडी (ED) को नोटिस भेजा है। अब इस मामले की अगली सुनवाई 25 फरवरी को होगी।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के बहनोई Robert Vadra विदेश में अवैध संपत्ति बनाने के मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के समक्ष शुक्रवार को पांचवीं बार पेश हुए। इससे पहले इसी सिलसिले में वाड्रा से चार बार पूछताछ हो चुकी है। पिछली बार 20 फरवरी को हुई थी। जांच एजेंसी ने बताया कि वाड्रा को दस्तावेज और अन्य आरोपितों के लिखित बयान दिखाए जा रहे हैं। साथ ही वाड्रा के बयान को प्रिवेंशन ऑफ मनी लांड्रिंग एक्ट (पीएमएलए) की धारा 50 के अंतर्गत दर्ज किया जा रहा है।

वाड्रा से राजस्थान के बीकानेर जमीन घोटाले के संबंध में विगत 12 और 13 फरवरी को ईडी ने जयपुर में पूछताछ की थी। इसके बाद 15 फरवरी को ईडी ने वाड्रा की कंपनी स्काई लाइट हास्पिटैलिटी प्रा.लि. की दिल्ली के सुखदेव विहार स्थित 4.43 करोड़ रुपये की संपत्ति भी जब्त कर ली थी।

अभी हाल में ही दिल्ली की एक अदालत ने वाड्रा की अंतरिम जमानत दो मार्च तक के लिए बढ़ा दिया था। दो फरवरी को अदालत ने वाड्रा को 16 फरवरी तक की अंतरिम जमानत दी थी।

दिल्ली की एक अदालत ने वाड्रा की गिरफ्तारी पर रोक लगाते हुए उन्हें निर्देश दिया था कि वह हर बार ईडी के बुलाने पर पेश होंगे। वाड्रा से लंदन के ब्रायनस्टन स्क्वायर में तकरीबन 19 लाख पाउंड में एक बेनामी संपत्ति की खरीद में मनी लांडरिंग के आरोप में पूछताछ की गई है। ईडी ने अदालत को बताया था कि उसे लंदन में वाड्रा से संबद्ध विभिन्न नई संपत्तियों की जानकारी मिली है।

जिनमें दो मकान शामिल हैं, एक की कीमत 50 लाख पाउंड और दूसरे की कीमत 40 लाख पाउंड है। इसके अलावा उनके छह फ्लैट और अन्य संपत्तियां भी हैं। हालांकि वाड्रा ने तमाम आरोपों से इनकार करते हुए मामले को पूरी तरह से राजनैतिक बताया था।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »