RJD सुप्रीमो लालू ने बिहार कांग्रेस के प्रभारी को बताया ‘भकचोंधर’

बिहार में कांग्रेस के महागठबंधन से हटने के बाद राष्‍ट्रीय जनता दल RJD के साथ उसका वार-पलटवार अब मर्यादा की सीमा लांघ रहा है। बिहार आने के ठीक पहले दिल्‍ली में आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने बिहार कांग्रेस के प्रभारी भक्‍त चरण दास की राजनीतिक समझ पर सवाल उठाते हुए व्‍यक्तिगत हमला किया। बीजेपी से गठबंधन के आरोप पर लालू ने पूछा कि क्‍या कांग्रेस को हारने के लिए सीट देते? इस पर आरजेडी व कांग्रेस में वार-पलटवार का सिलसिला शुरू हो गया है। उन्‍होंने दोनों बेटों तेज प्रताप यादव एवं तेजस्‍वी यादव के बीच किसी नाराजगी से इंकार किया तथा पार्टी में सब-कुछ ठीक बताया।
बिहार कांग्रेस प्रभारी को बताया बेवकूफ
नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव के बाद अब आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव ने भी कांग्रेस को आईना दिखा दिया है। पटना आने से पहले दिल्ली में पत्रकारों से उन्होंने साफ कहा कि कांग्रेस को हारने के लिए वे सीट नहीं दे सकते थे। कांग्रेस के बिहार प्रभारी भक्तचरण दास को उन्होंने भकचोंधर (अज्ञानी) बताया। उपचुनाव में आरजेडी व कांग्रेस के बिगड़े रिश्ते पर लालू का पहली बार बयान आया है। बिहार में दोनों दल अलग-अलग चुनाव लड़ रहे हैं और एक-दूसरे पर तीखे हमले भी कर रहे हैं।
हारने के लिए नहीं दे सकता था सीट
राज्यसभा सदस्य मीसा भारती के आवास पर जुटे पत्रकारों के सवाल पर लालू ने कहा कि गठबंधन क्या होता है? यह हारने के लिए नहीं होता। कांग्रेस की जमानत जब्त हो जाती है। उसे हारने के लिए सीट नहीं दे सकता था। लालू से सवाल यह भी पूछा गया कि भक्तचरण ने आरजेडी पर पर बीजेपी के लिए काम करने का आरोप लगाया है तो उनका जवाब था कि भक्तचरण भकचोंधर हैं। उन्हें कुछ नहीं आता।
विस उपचुनाव में जीत का किया दावा
लालू ने तारापुर और कुशेश्वरस्थान दोनों सीटों पर अपनी जीत का दावा किया। विधानसभा के आम चुनाव में गठबंधन के तहत राजद ने कांग्रेस को 70 सीटें दी थीं, जिसमें मात्र 19 पर जीत मिली थी। राजद इसी मुद्दे पर बार-बार कांग्रेस की खिंचाई भी करते रहा है। उसके स्ट्राइक रेट पर सवाल उठाता रहा है।
तेजस्वी और तेजप्रताप के बीच सब ठीक
लालू ने अपने परिवार में चल रहे झगड़े पर भी मीडिया के सवालों का जवाब दिया। उन्होंने तेजस्वी और तेजप्रताप यादव के बारे में कहा कि दोनों उनके बेटे हैं। दोनों के बीच सब ठीक है। उन्होंने चुनाव प्रचार में भी जाने का संकेत दिया और कहा कि जो लोग कोर्ट का हवाला देकर मेरे चुनाव प्रचार का विरोध कर रहे, उन्हें नहीं पता कि अदालत ने मुझे आधी सजा काटने के आधार पर जमानत दी है। कहा कि सेहत ने साथ दिया तो प्रचार के लिए भी जा सकता हूं। राजनीतिक सक्रियता पर कोई बंदिश नहीं है।
लालू यादव के बयान से गरमाई सियासत
लालू प्रसाद के कांग्रेस प्रभारी भक्‍त चरण दास को लेकर दिए गए आपत्तिजनक बयान पर कांग्रेस नेता प्रमचंद मिश्र ने कहा कि इससे आरजेडी सुप्रीमो का फ्रस्‍टेशन झलकता है। उनके जैसे बड़े नेता से अमर्यादित बयान की अपेक्षा नहीं थी। ऐसे में कांग्रेस भी चुप नहीं रहेगी। उधर, आरजेडी प्रवक्‍ता मृत्‍युंजय तिवारी ने कहा कि लालू तब भी कांग्रेस के साथ थे, जब सोनिया गांधी को विदेशी मूल का बताकर हमला किया जा रहा था। कांग्रेस के साथ आरजेडी का पुराना रिश्‍ता रहा है, लेकिन कुछ लोग उलूल-जुललू बोल रहे हैं, जिसे बर्दाश्‍त नहीं किया जाएगा।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *