साजिश के तहत की गई रेवाड़ी गैंगरेप की वारदात: SIT

रेवाड़ी। रेवाड़ी में 19 वर्षीय लड़की से हुई गैंगरेप की वारदात को एक साजिश के तहत अंजाम दिया था और इसकी तैयारी पहले से की गई थी। यह दावा है रेप केस की जांच कर रही SIT टीम की मुखिया एसपी नाजनीन भसीन का। उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान यह बात कही। केस में सबसे पहले गिरफ्तार किए गए आरोपी दीन दयाल के एक कमरे को ही इस वारदात के लिए इस्तेमाल किया गया था।
एसपी भसीन के मुताबिक दीन दयाल को इसके बारे में पहले से पता था कि यहां पर रेप की वारदात को अंजाम दिया जाना है। हालांकि उन्होंने इसके आगे किसी भी तरह की जानकारी देने से इंकार कर दिया क्योंकि इससे केस की जांच पर असर पड़ सकता है।
मुख्य आरोपी पुलिस की गिरफ्त में
रविवार शाम को गैंगरेप केस के मुख्य आरोपी निशू फोगाट को गिरफ्तार किया जा चुका है। आज उसे कोर्ट के सामने पेश किया जाएगा। निशू से पहले ट्यूबवेल मालिक दीन दयाल और रेप पीड़िता का मौके पर जाकर इलाज करने वाले डॉक्टर संजीव को भी गिरफ्तार किया जा चुका है। इन दोनों पर आरोप है कि इन्हें घटना के बारे में पहले से जानकारी थी।
रेप आरोपी की गिरफ्तारी के लिए मिलिट्री स्टेशन पहुंची पुलिस
इस बीच हरियाणा पुलिस की एक टीम गैंगरेप केस के दूसरे आरोपी पंकज की गिरफ्तारी के लिए कोटा स्थित मिलिट्री स्टेशन पहुंची है। पंकज इस वक्त सेना में नौकरी करता है। पंकज छुट्टी पर था और उसे सोमवार को कोटा स्थित एयर डिफेंस रेजिमेंट में जॉइन करना था। पुलिस 3 आरोपियों से ज्यादा लोगों के शामिल होने की आशंका पर काम कर रही है। रेप पीड़िता ने भी अपने बयान में 3 से ज्यादा लोगों के शामिल होने की पुष्टि की है।
अभी दो आरोपी पंकज और मनीष फरार हैं जिन्होंने युवती को अगवा किया था। रेवाड़ी के नए एसपी राहुल शर्मा ने इनकी जल्द से जल्द गिरफ्तारी का आश्वासन दिया है। उन्होंने कहा कि मामला सिर्फ गिरफ्तारी पर ही नहीं बल्कि आरोपियों को दोषी करार दिए जाने तक जारी रहेगा। वहीं रेवाड़ी गैंगरेप पीड़िता की हालत पर मेडिकल सुपरिंटेंडेंट सुदर्शन पंवर ने बताया, ‘उसकी हालत अब सामान्य है और वह धीरे-धीरे ट्रॉमा से उबर रही है।’
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »