RES आगरा का कारनामा, सिर्फ कागजों में बना दीं 50 लाख की सड़कें

आगरा में ग्रामीण अभियंत्रण विभाग (RES) ने पुरानी ईदगाह कॉलोनी में दो और विभव नगर के चार सेक्टरों में लगभग 50 लाख रुपये की छह सड़कें कागजों में बना दीं। मुख्य विकास अधिकारी जे. रीभा ने नवनिर्मित सड़कों का मुआयना किया तो उन्हें मौके पर सड़कें ही नहीं मिलीं। इस पर उन्होंने ग्रामीण अभियंत्रण विभाग के अधिशासी अभियंता को नोटिस भेजा है।
RES को पुरानी ईदगाह कॉलोनी में दो सड़कों का निर्माण करवाना था, जिनकी लागत तकरीबन 18 लाख रुपये थी। इसी तरह विभव नगर के एक से लेकर चार सेक्टरों में चार सड़कों का निर्माण कराया जाना था। इनकी कुल लागत तकरीबन 50 लाख रुपये थी।
इन सड़कों का सीडीओ ने निरीक्षण किया। साथ ही अधिकारियों की निरीक्षण आख्या का अवलोकन भी किया। ईदगाह कॉलोनी में निरीक्षण में किस स्थान पर कौन सी सड़क बनाई गई है, यह पता नहीं चला। निर्माण कार्य में बनाए गए प्राक्कलन का उल्लेख भी नहीं किया गया।
चार सड़कों की जानकारी स्पष्ट नहीं
सड़कों की लंबाई, चौड़ाई, मोटाई का भी उल्लेख विभागीय अधिकारियों ने अपनी निरीक्षण आख्या में नहीं किया। इसके अलावा सीडीओ ने कहा है कि विभव नगर में सेक्टर एक, दो, तीन और चार में बनवाई गई सड़कों की स्पष्ट जानकारी नहीं दी गई।
दोनों स्थानों पर बनाई गई सड़कों की स्थिति, खर्च की गई धनराशि के बारे में नहीं बताया गया है। सीडीओ ने सड़कों के बारे में आरईएस के अधिशासी अभियंता को नोटिस भेजकर जवाब तलब किया है।
मुख्य विकास अधिकारी जे रीभा ने बताया कि पुरानी ईदगाह कॉलोनी और विभव नगर की सड़कों के निरीक्षण में नई सड़कों के बारे में जानकारी नहीं दी गई। निरीक्षण आख्या में भी खामियां मिली थीं। जवाब तलब किया गया है।
RES के अधिशासी अभियंता वीरेंद्र सिंह ने बताया कि पुरानी ईदगाह कॉलोनी में दो सड़कें बनवा दी गई हैं, जबकि विभव नगर में अभी काम चल रहा है। नई सड़कों पर बोर्ड और व्यय आदि अंकित करवाया जाएगा।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *