RBI के पूर्व गवर्नर ने कहा, केंद्र सरकार के प्रति जवाबदेह है आरबीआई

नई दिल्‍ली। भारतीय रिजर्व बैंक RBI के पूर्व गवर्नर बिमल जालान ने गुरुवार को कहा कि RBI केंद्र सरकार के प्रति जवाबदेह है और उसे सरकार द्वारा तय फ्रेमवर्क के तहत ही नीतियों का निर्माण करना चाहिए। केंद्रीय बैंक की स्वायत्तता को लेकर उपजे विवाद के बीच RBI के गवर्नर उर्जित पटेल के इस्तीफे के बाद बिमल जालान को उस पैनल का अध्यक्ष नियुक्त किया गया है, जो आरबीआई के सरप्लस फंड को सरकार को ट्रांसफर करने के लिए फ्रेमवर्क तय करेगा।
रॉयटर्स से बातचीत करते हुए जालान ने समिति की सिफारिशों पर टिप्पणी करने से इंकार कर दिया, लेकिन सरकार तथा केंद्रीय बैंक के रिश्तों पर अपनी बात रखी।
इकनॉमिक कैपिटल फ्रेमवर्क पर छह सदस्यीय विशेषज्ञ समिति का चेयरमैन नियुक्त किए जाने के बाद अपने पहले साक्षात्कार में जालान ने कहा, ‘मौद्रिक नीति के क्रियान्वयन के लिए RBI सरकार के प्रति जवाबदेह है।’
उन्होंने कहा, ‘स्वायत्तशासी संस्थान और सरकार के बीच मतभेद हो सकते हैं। इस मामले में सरकार को राजनीतिक हालत कैसे हैं और वास्तव में सच्चाई क्या है, इसे देखते हुए व्यापक रुख अख्तियार करना चाहिए।’
जालान ने कहा, ‘वहीं दूसरी तरफ, स्वायत्तशासी संस्थान को वह सेवाएं देनी होंगी, जिसे पॉलिसी फ्रेमवर्क के रूप में सरकार ने मंजूरी दी है।’ उन्होंने उम्मीद जताई कि सरकार के साथ मतभेद खत्म होंगे, क्योंकि केंद्रीय बैंक की बागडोर नए प्रबंधन के हाथ में है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »