आरबीआई ने दी YES Bank के खिलाफ रेग्युलेटरी एक्शन की चेतावनी

मुंबई। आरबीआई ने YES Bank के खिलाफ रेग्युलेटरी एक्शन लेने की चेतावनी दी है। आरबीआई ने गोपनीय रिपोर्ट सार्वजनिक करने पर YES Bank के खिलाफ कार्रवाई करने की चेतावनी देते हुए कहा कि यस बैंक लोगों को गुमराह कह रहा है, आरबीआई को गोपनीयता उपबंध के तहत नियामकीय कार्रवाई करने का अधिकार है। RBI ने एसेट क्लासिफिकेशन और प्रॉविजनिंग में कोई खामी नहीं पाये जाने वाली Nil Divergence रिपोर्ट को सार्वजनिक किए जाने पर YES Bank के खिलाफ कार्रवाई करने की चेतावनी दी है। यस बैंक ने शुक्रवार को खुद यह जानकारी दी।

गौरतलब है  कि YES Bank ने बुधवार को बताया था कि उसे आरबीआई की तरफ से 2017-18 की रिस्क असेसमेंट रिपोर्ट मिल गई है। उसे बैंक द्वारा घोषित एनपीए के आकलन में कोई अंतर नहीं मिला। रिपोर्ट सार्वजनिक करने को आरबीआई ने नियमों का उल्लंघन बताया है।

YES Bank लोगों को गुमराह कह रहा: आरबीआई

आरबीआई का कहना है कि निल डायवर्जेंस (एनपीए के आकलन में फर्क नहीं मिलना) कोई उपलब्धि नहीं है जिसे प्रकाशित किया जाए। इस बारे में यस बैंक ने जो प्रेस रिलीज जारी किया है उसे गंभीरता से लिया जा रहा है और बैंक के खिलाफ रेग्युलेटरी एक्शन लिया जा सकता है।

आरबीआई का कहना है कि निल डायवर्जेंस (एनपीए के आकलन में फर्क नहीं मिलना) कोई उपलब्धि नहीं है जिसे प्रकाशित किया जाए। इस बारे में यस बैंक ने जो प्रेस रिलीज जारी किया है उसे गंभीरता से लिया जा रहा है और बैंक के खिलाफ रेग्युलेटरी एक्शन लिया जा सकता है।

आरबीआई के मुताबिक रिस्क असेसमेंट रिपोर्ट में यस बैंक की कार्य प्रणाली की खामियों का भी उल्लेख है। ऐसे में रिपोर्ट के सिर्फ एक हिस्से का खुलासा कर यस बैंक ने लोगों को गुमराह करने की कोशिश की है।

यस बैंक ने बुधवार को स्टॉक एक्सचेंजों को बताया था कि उसकी प्रोविजनिंग को आरबीआई ने सही पाया है। इस खबर के बाद गुरुवार को यस बैंक के शेयर में 32% तेजी आई थी। इससे मार्केट कैप में 12,025 करोड़ रुपए का इजाफा हुआ था।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »