रंजन गोगोई ने की जस्टिस बोबडे को अगला CJI बनाने की सिफारिश

नई दिल्‍ली। CJI (प्रधान न्यायाधीश) रंजन गोगोई ने शुक्रवार को केंद्र को एक पत्र भेजकर सुप्रीम कोर्ट में अपने बाद वरिष्ठतम न्यायाधीश शरद अरविंद बोबडे को अपना उत्तराधिकारी बनाने की सिफारिश की। आधिकारिक सूत्रों ने को बताया कि न्यायमूर्ति गोगोई ने विधि एवं न्याय मंत्रालय को पत्र लिखकर न्यायमूर्ति बोबडे को अगला CJI (प्रधान न्यायाधीश) बनाने की सिफारिश की है।
न्यायमूर्ति गोगोई ने तीन अक्टूबर 2018 को देश के 46वें CJI के तौर पर शपथ ग्रहण की थी। वह 17 नवंबर को सेवानिवृत्त होंगे। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि CJI ने परम्परा के अनुसार अपने उत्तराधिकारी के रूप में अपने बाद अगले वरिष्ठतम न्यायाधीश के नाम की सिफारिश की है।
24 अप्रैल, 1956 को नागपुर में जन्मे बोबडे सुप्रीम कोर्ट के जज हैं और साथ ही वो महाराष्ट्र नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी, मुंबई और महाराष्ट्र नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी, नागपुर के चांसलर भी हैं। शरद अरविंद ने नागपुर विश्वविद्यालय से बीए और एलएलबी डिग्री ली है।
शरद अरविंद बोबडे अपर न्यायाधीश के रूप में 29 मार्च 2000 को बॉम्बे हाई कोर्ट की खंडपीठ का हिस्सा बने। 16 अक्टूबर’ 2012 को मध्य प्रदेश हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश के रूप में शपथ ली। 12 अप्रैल’ 2013 को भारत के सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीश के रूप में पदोन्नत किया गया।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »