Ramlal वृद्धा आश्रम में रक्षा सूत्र बंधवाकर वस्त्र वितरण किया

आगरा। रक्षाबंधन की पूर्व बेला पर Ramlal वृद्धा आश्रम में रक्षा सूत्र बंधवाकर वस्त्र वितरण कर बुजुर्गों से आशीर्वाद लिया। “तुम बेसहारा हो, किसी का सहारा बन जाओ तुम्हे सहारा अपने आप मिल जाएगा”, इन्ही पंक्तियों से ढाढस बधांते हुए शहर के उदारमना परिवारों के सदस्यों ने रक्षाबंधन की पूर्व बेला पर श्री Ramlal वृद्धा आश्रम कैलाश पहुँचकर न केवल रक्षा सूत्र बंधवा, वस्त्र वितरण कर वुजुर्गों से आशीर्वाद और बच्चों के बीच प्यार बांटा, शनिवार को आयोजित स्नेह मिलन व मातृ शक्ति आशीर्वाद समारोह में श्री रामलाल वृद्ध आश्रम के मुख्य संरक्षक अशोक जैन सी ए ने सभी का स्वागत करते हुये कहा कि स्व श्री नत्थीमल कागजी वेलफेयर ट्रस्ट व आगरा विकास मंच के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित इस कार्यक्रम से आश्रम में रह रहे 256 वृद्ध बुजुर्गो के मन फूल से खिल उठे है ,वे अन्तः की गहराईयों से दुवाएँ दे रहे है ।

Ramlal Vriddha Ashram celebrated rakshabandhan, by distributing garments to the elderly
Ramlal Vriddha Ashram celebrated rakshabandhan, by distributing garments to the elderly

उन्होंने कहा कि Ramlal आश्रम वासियो के बीच शहरवासियों के द्वारा जो दुलार स्नेह बांटा जा रहा है वह तारीफेकाबिल है। आज श्रीमती उर्मिला बंसल और उनके परिवारीजन विजय वंसल, सुनीता वंसल,बीना बंसल, रविन्द्र अग्रवाल , अजय गोयल, आगरा विकास मंच के राजकुमार जैन, सुनील जैन आदि के सहयोग से सभी को वस्त्र वितरण कर शहर में प्रेरणाप्रद कार्य किया ।

रामलाल आश्रम की ओर से अतिथियों का स्वागत अध्यक्ष शिव प्रसाद शर्मा ,संदेश जैन नंदकिशोर शर्मा, निखिल सिंह ,शिवानी शर्मा ,अंजलि आदि के द्वारा किया गया ।

इस दौरान शहर के प्रकाश चंद गुप्ता , बृजमोहन बंसल आदि ने आश्रम की व्यवस्थाओं और वहां के वासियों की आपसी प्रेम और भाईचारे को सौंदर्य का प्रतीक बताया ।
संचालन संदेश जैन ने किया वहीं धन्यवाद आश्रम के अध्यक्ष शिव प्रसाद शर्मा ने किया उपस्थित लोगों में प्रभाव रूप से पंकज जैन ,मनोज गर्ग , राजकुमार जैन , शुभम सोनी आदि थे। इस दौरान स्वर्गीय श्री शरद चंद्र जैन लोहामंडी की स्मृति में उनके परिवारीजनों द्वारा 11000 की धनराशि भेंट की गई ।
व्यवस्था अरविंद शर्मा, मुकेश शर्मा , सत्यनारायण, पंकज, धर्मपाल जैन, निशा, अंजलि, ज्योति, रूबी, मालिका ने संभाली।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »