राजीव एकेडमी बना विश्वविद्यालय परीक्षा Nodal Center

-डा. भीमराव अंबेडकर विश्वविद्यालय के कई महाविद्यालयों के छात्र-छात्रा Nodal Center पर दे रहे परीक्षा

-राजीव एकेडमी फोर टैक्नोलाॅजी एण्ड मैनेजमेंट में पहुंचे बीबीए, बीईकाॅम, पीजीडीसीओएम, पीजीडीबीएम, पीजीडीसीए के छात्र-छात्रा

मथुरा। डा. भीमराव अंबेडकर विश्वविद्यालय ने जनपद के कई महाविद्यालयों के छात्र-छात्राओं की परीक्षा का Nodal Center राजीव एकेडमी फोर टैक्नोलाॅजी एण्ड मैनेजमेंट बनाया है। इस केन्द्र पर बीबीए, बीईकाॅम, पीजीडीसीओएम, पीजीडीबीएम, पीजीडीसीए के सैकडों छात्र-छात्राएं परीक्षा दे रहे हैं।
आरके ग्रुप के चेयरमैन डा. रामकिशोर अग्रवाल ने परीक्षाओं में सफल होने का आशीर्वाद देते हुए कहा कि वे सावधानीपूर्वक परीक्षा दें। प्रश्नों के उत्तर बिल्कुल नपे तुले शब्दों में लिखें। अपने शिक्षकों से उन्होने कक्षा शिक्षण के दौरान जो ज्ञान प्राप्त किया है, प्रश्नों के उत्तरों में उसका भरपूर प्रयोग करें ताकि उन्हें अच्छे अंक मिल सकें। एमडी मनोज अग्रवाल ने परीक्षार्थियों के उज्वल भविष्य की कामना करते हुये उन्हें समय का सदुपयोग करते रहने की सलाह दी। उन्होंने कहा है कि परीक्षाओं का माहौल है। ऐसे में वे अधिकाधिक समय तक अपने कोर्स की पुस्तकों के अध्ययन में जुटे रहें।
संस्थान के निदेशक डाॅ. अमर कुमार सक्सैना ने इस बारे में बताया कि विश्वविद्यालयी परीक्षा सत्र दिसम्बर-2017 में बीबीए (प्रथम, तृतीय व पंचम सेमेस्टर), बीकाॅम0ई0काम0 पीजीडीसीए ओम, पीजीडीबीएमओएम, पीजीडीसीए के छात्र-छात्राओं का नोडल सेण्टर राजीव एकेडमी फोर टैक्नोलाॅजी एण्ड मैनेजमेंट को बनाया गया है। उन्होने कहा है कि विश्वविद्यालय के नियमानुसार परीक्षाओं में सख्ती बरती जा रही है। परीक्षा कक्ष में किसी प्रकार का इलैक्ट्राॅनिक डिवायस, मोबाइल फोन आदि लाना वर्जित है। नोडल सेण्टर के बाहर ही छात्र-छात्रओं की जामा तलाशी के बाद ही परीक्षा परिसर व कक्ष में प्रवेश दिया जा रहा है। परीक्षा विभाग के अनुसार परीक्षार्थी पूर्णतः अनुशासित रह कर परीक्षा दे रहे हैं।
आन्तरिक उड़नदस्ते में डाॅ. रमन चावला, मौ. जाहिद, चन्द्रेश दुबे, तनुज अग्रवाल, डाॅ, निधि एस, तिवारी, डाॅ, डीबी समाधिया, रामचंद्र आदि लगातार सभी परीक्षार्थियों पर नजर रखे हुए हैं।
Nodal Center पर गोस्वामी, मनीष उपाध्याय, मयंक दीक्षित, भरत गौतम, दीपक सिंह आदि परीक्षा कराने की व्यवस्थाएं संभाले हुए हैं।