यूपी में राजीव एकेडमी को मिली सातवीं रैंक

Rajiv Academy gets 7th rank in UP
यूपी में राजीव एकेडमी को मिली सातवीं रैंक

डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय के एमबीए परीक्षा परिणामों में छात्र-छात्राओं का जलवा

मथुरा। डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय (एकेटीयू) द्वारा हाल ही घोषित किए गये एमबीए प्रथम सेमेस्टर के परीक्षा परिणामों के विश्लेषण में राजीव एकेडमी फार टेक्नोलाजी एण्ड मैनेजमेंट को समूचे उत्तर प्रदेश में सातवीं रैंक मिली है। राजीव एकेडमी की इस शानदार सफलता से छात्र-छात्राओं सहित समस्त स्टाफ में खुशी का माहौल है।

गौरतलब है कि राजीव एकेडमी फार टेक्नोलाजी एण्ड मैनेजमेंट में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं को हर क्षेत्र में लगातार सफलताएं मिल रही हैं। डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय की एमबीए परीक्षा में राजीव एकेडमी फार टेक्नोलाजी एण्ड मैनेजमेंट के छात्र-छात्राओं ने बेहतरीन प्रदर्शन किया है। एकेटीयू  के परीक्षा परिणामों के विश्लेषण में राजीव एकेडमी फार टेक्नोलाजी एण्ड मैनेजमेंट को प्रदेश में सातवीं रैंक मिली है। प्रदेश में उच्च रैंकिंग मिलने पर छात्र-छात्राएं खुश हैं। समस्त छात्र-छात्राएं कैम्पस में एक दूसरे से प्रश्नों के हल करने के तौर-तरीकों पर चर्चा करते देखे गए।

आर.के. एजूकेशन हब के चेयरमैन डा. रामकिशोर अग्रवाल ने राजीव एकेडमी फार टेक्नोलाजी एण्ड मैनेजमेंट की इस शानदार सफलता का श्रेय छात्र-छात्राओं की कड़ी मेहनत को दिया है। डा. अग्रवाल ने कहा कि परीक्षाओं में कठिन परिश्रम का निचोड़ सामने आता है। प्रसन्नता का विषय है कि एमबीए के परीक्षा परिणाम में राजीव एकेडमी को उत्तर प्रदेश में सातवीं रैंक मिली है। बेहतर होगा कि अगले साल संस्थान इससे भी बेहतर मुकाम हासिल करे।

प्रबंध निदेशक मनोज अग्रवाल ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि प्रदेश में राजीव एकेडमी को सातवीं रैंक मिलना अच्छी बात है। प्रदेश के लाखों छात्र-छात्राओं में राजीव एकेडमी के छात्र-छात्राओं की योग्यता और यहाँ कराए जाने वाले अध्ययन की गुणवत्ता की चर्चा होना वाकई खुशी की बात है। हमें पूरा विश्वास है कि अब छात्र-छात्राएं कड़ी मेहनत के बल पर पहली रैंक हासिल करेंगे। वैसे राजीव एकेडमी में अध्ययन और अध्यापन के तौर-तरीकों की गुणवत्ता को और अधिक उच्चता प्रदान करने के लिए लगातार प्रयास किये जा रहे हैं। अनुभवी विद्वान और कारपोरेट जगत की प्रसिद्ध हस्तियों द्वारा छात्र-छात्राओं को उपयोगी टिप्स हमेशा दिए जाते हैं ताकि उनके अध्ययन में और अधिक निखार लाया जा सके।

निदेशक डा. अमर कुमार सक्सेना ने कहा कि पूरे यूपी में सातवीं रैंक मिलना मामूली बात नहीं है। यूपी हमारे देश का सबसे बड़ा प्रदेश है जहाँ कई लाख छात्र-छात्राएं उच्च तकनीकी शिक्षा से जुड़े हैं। अब वह दिन दूर नहीं जब राजीव एकेडमी के छात्र-छात्राएं राष्ट्रीय स्तर पर प्रसिद्धि पाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *