राजीव एकेडमी का बीबीए कोर्स युवाओं को दे रहा है उज्ज्वल भविष्य

राजीव एकेडमी फार टेक्नोलाजी एण्ड मैनेजमेंट के छात्रों को ख्यातिनाम कम्पनियां दे रहीं उच्च पैकेज पर जॉब के ऑफर

मथुरा। व्यावसायिक शिक्षा के क्षेत्र में राजीव एकेडमी फार टेक्नोलाजी एण्ड मैनेजमेंट युवाओं की पहली पसंद है, इसकी मुख्य वजह यहां की उच्च गुणवत्तायुक्त शिक्षण व्यवस्था के साथ-साथ देशी-विदेशी ख्यातिनाम कम्पनियों में उच्च पैकेज पर मिल रहे जॉब के अवसर हैं। बीता सत्र यहां के छात्र-छात्राओं के लिए शत-प्रतिशत सफलता भरा रहा है।

राजीव एकेडमी में बीबीए कोर्स के प्रथम सेमेस्टर से ही छात्र-छात्राओं को ऐसी तालीम दी जाती है कि वे कोर्स पूरा करने से पहले ही नेशनल और मल्टीनेशनल कम्पनियों की पहली पसंद बन जाते हैं। यहां निरंतर लगती पीडीपी क्लासें, बड़े एक्सपोजर, राष्ट्रीय एवं अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर होने वाली संगोष्ठियां, कार्यशालाएं तथा औद्योगिक वातावरण छात्र-छात्राओं के स्वर्णिम भविष्य को नया आयाम देता है। यहां समय-समय पर विद्यार्थियों को इण्डस्ट्रियल विजिट कराए जाते हैं ताकि वे हर तकनीकी बदलाव को स्वयं देख सकें।

इस सफलता पर आर.के. एजूकेशन हब के चेयरमैन डा. रामकिशोर अग्रवाल का कहना है कि आज की युवा पीढ़ी में अपार ऊर्जा है। राजीव एकेडमी में यंगस्टर्स को सकारात्मक दिशा प्रदान करने के साथ-साथ  उन्हें गुणवत्तायुक्त व्यावसायिक शिक्षा प्रदान की जाती है ताकि वे स्वयं हर स्थिति का लाभ उठा सकें। संस्थान के वाइस चेयरमैन पंकज अग्रवाल का मानना है कि छात्र-छात्राएं व्यावसायिक कोर्स में बीबीए को इसलिए भी पसंद करते हैं क्योंकि आज के समय में प्रबंधन स्नातकों की निरंतर मांग बढ़ रही है। श्री अग्रवाल का कहना है कि इस साल यहां के छात्र-छात्राओं को एमेजान, वीवो, जैनपैक्ट, बजाज केपिटल, जस्ट डायल, आईसीआईसीआई, अलीबाबा डाट काम, बार्कलेज, एल.जी., जियो, ईजी पालिसी आदि प्रमुख कम्पनियों उच्च पैकेज पर जॉब के अवसर मिले हैं। संस्थान के मैनेजिंग डायरेक्टर मनोज अग्रवाल का विचार है कि उच्च व्यावसायिक शिक्षण संस्थानों में राजीव एकेडमी ऐसा संस्थान है जहां की व्यवस्थाएं, नवीनतम शिक्षण तकनीक छात्र-छात्राओं की पहुंच और समझ के अनुरूप है।

संस्थान के निदेशक डा. अमर कुमार सक्सेना का कहना है कि राजीव एकेडमी से बीबीए पास आउट सैकड़ों छात्र-छात्राएं जहां नेशनल और मल्टीनेशनल कम्पनियों में उच्च पैकेज पर जॉब कर रहे हैं वहीं ऐसे छात्र-छात्राएं भी हैं जोकि स्वयं के व्यावसायिक संस्थान स्थापित कर रोजगार प्रदाता बने हुए हैं। डा. सक्सेना का कहना है कि राजीव एकेडमी के बीबीए कोर्स की विशेषता यह भी है कि अंतिम वर्ष में पहुंचते ही यहां के छात्र-छात्राओं के एक हाथ में डिग्री तो दूसरे हाथ में ऑफर लेटर होता है। 12वीं कामर्स, आर्ट एवं साइंस के विद्यार्थी बीबीए में प्रवेश लेकर प्रबंधन के क्षेत्र में अपना करियर संवार सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »