राजीव एकेडमी के B.Ed छात्रों ने किया ब्रज भ्रमण

राजीव एकेडमी फोर टेक्नोलाॅजी एंड मैनेजमेंट के B.Ed के छात्र-छात्रा हुए नंदगांव बरसाना की संस्कृति से रुबरु

मथुरा। राजीव एकेडमी फोर टेक्नोलाॅजी एंड मैनेजमेंट के  B.Ed विभाग के छात्र-छात्राओं ने ब्रज भ्रमण के दौरान नंदगांव बरसाना के प्रसिद्ध मंदिरों में दर्शन कर उनका भारतीय मनीषा और धार्मिक जगत में महत्व का परीक्षण किया। भ्रमण के दौरान छात्र-छात्राओं ने बरसाना के श्रीजी मंदिर स्थल के पुरातात्विक महत्व के बारे में जानकारी एकत्रित की। छात्र-छात्राओं ने बलुआ व भूरे पत्थर से बने उक्त मंदिर की स्थापत्य कला के नमूने चित्र भी लिये। इसके बाद छात्राध्यापकों का यह दल नन्दगांव पहुंचा जहां नन्दबाबा के निवास स्थल व मंदिरों के उच्च स्थल का पुरातात्विक व धार्मिक महत्व जाना।

आरके एजुकेशन हब के चेयरमैन डा. राम किशोर अग्रवाल और एमडी मनोज अग्रवाल बोले-हजारों सालों से लोकप्रिय बरसाना और नंदगांव की की काफी धार्मिक
आरके एजुकेशन हब के चेयरमैन डा. राम किशोर अग्रवाल ने कहा कि हजारों सालों से लोकप्रिय बरसाना और नंदगांव धार्मिकता ही नहीं ऋषि-मुनियों के शाप के कारण सुरक्षित रहे। चूंकि बरसाना, गोवर्धन व नंदगांव एक ही पट्टी पर आबाद है। इस पर्वत पट्टी पर अनेक ऋषि-मुनि तपस्यारत रहते रहे। मथुरा नरेश कंस द्वारा सनातन धर्मियों को सताने जाने पर इन्हीं ऋषियों ने कंस को श्राप दिया था कि इस पर्वत पट्टी पर वह आएगा तो भस्म हो जायेगा। इसीलिए राधारानी व नन्द बाबा के परिवार यहां निर्भय रूप से रहे। धार्मिक दृष्टि से आज भी इन स्थलों का भारी महत्व है। शनिदेव मंदिर भी प्राचीन है। जिसका लोकप्रिय प्रसंग सभी जानते हैं।

वाइस चेयरमैन पंकज अग्रवाल व एमडी मनोज अग्रवाल ने कहा कि बीएड के छात्र-छात्राओं के लिए इस भ्रमण का शैक्षिक महत्व है, क्योंकि इन छात्र-छात्राओं को सामाजिक ढांचे के ज्ञान के अन्तर्गत धार्मिक व पुरातात्विक जानकारी होनी चाहिए, ताकि बालकों के शिक्षण के वक्त उनके ज्ञानवर्द्धन में सहायक बन सकेंगे। भ्रमण दल के सायंकाल राजीव एकेडमी लौटने पर निदेशक डा. अमर कुमार सक्सैना ने भव्य स्वागत किया। छात्र-छात्राओं के भ्रमण दल में डा. रीना शर्मा, डा. प्रमोद वल्लभ गोस्वामी, डा. प्रीतिबाला तिवारी, डा. डीबी समाधिया, डा. अवधेश अथैया, रविकांत आदि उपस्थित रहे। भ्रमण कार्यक्रम संयोजक एससी यादव रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »