बंदर की पुण्‍यतिथि पर भण्‍डारे को लेकर राजा भैया के पिता नजरबंद

प्रतापगढ़। यूपी के बाहुबली नेताओं में शुमार कुंडा से विधायक और पूर्व मंत्री रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया के परिवार को प्रशासन ने झटका दे दिया है। राजा भैया के पिता उदय प्रताप सिंह को जिला प्रशासन ने उन्हीं की भदरी कोठी में ही नजरबंद कर दिया है। मामला मंदिर में भंडारे के आयोजन से जुड़ा हुआ है। इलाके में धारा 144 लागू कर दी गई है।
महल के आसपास और पूरे कुंडा में भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। कुंडा को छावनी में तब्दील कर दिया गया है। बताया गया है कि पिछले कुछ सालों से शेखपुर गांव में हनुमान मंदिर पर भंडारा करने को लेकर नई परंपरा शुरू हो गई थी। इस परंपरा पर बाद में जिला प्रशासन ने रोक लगा दी।
ऐसा इसलिए किया गया क्योंकि मंदिर के सामने से मुहर्रम का जूलूस निकलता है। भंडारे का आयोजन बंदर की पुण्यतिथि पर मनाया जाता है। बताया जाता है कि बंदर की मौत मुहर्रम के ही दिन हुई थी। माहौल को देखते हुए इलाके में धारा 144 लागू कर दी गई है।
मामले में प्रतापगढ़ के जिलाधिकारी शंभू कुमार ने कहा, ‘पर्व-त्योहार के मामले में हमने उन्हीं कार्यक्रमों की अनुमति दी है, जो विगत-वर्षों में मनाए जाते रहे हैं। उनके अलावा जो अतिरिक्त कार्यक्रम हैं, उन पर रोक लगी हुई है। कुंडा में विगत वर्षों में यह समस्या हुई कि हनुमान मंदिर पर भंडारा करने की कोशिश की गई, जिसे पिछले साल भी रोकी गई और इस बार भी रोक दिया गया। कोई भी कानून उल्लंघन ना कर पाए, पर्व-त्योहार में खलल न डाल पाए इसलिए पुलिस तैनात की गई है। हम लोग नजर बनाए हुए हैं, जिससे शांति व्यवस्था कायम रहे।’
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »