राज बब्बर बोले, अमित शाह गैर-हिन्दू तो रूपाणी ने कहा- बब्बर अज्ञानी

सूरत/केवड़िया। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के धर्म को लेकर उठे विवाद के बीच पार्टी के वरिष्ठ नेता तथा उत्तर प्रदेश कांग्रेस के प्रमुख और जाने माने अभिनेता राज बब्बर ने आज भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को ही गैर हिन्दू करार दे दिया।

हालांकि गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने कहा कि श्री बब्बर गलतबयानी कर रहे हैं और उन्हें श्री शाह के धर्म का ज्ञान नहीं है।
वह जैन नहीं बल्कि वैष्णव वाणिया (हिन्दू)है।

कांग्रेस ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह पर बड़ा हमला बोला है। पार्टी के नेता राज बब्बर ने कहा है कि भाजपा अध्यक्ष धर्म से जैन हैं। लेकिन वह खुद को हिंदू बताते हैं। बब्बर की यह प्रतिक्रिया राहुल गांधी की सोमनाथ यात्रा के बाद आई है। राहुल हाल ही में सोमनाथ मंदिर गए थे। वहां उनका नाम गैर हिंदुओं के रजिस्टर में दर्ज पाया गया, जिसके बाद हिंदू और गैर हिंदू पर विवाद शुरू हुआ था। बब्बर ने आगे इस पर कांग्रेस उपाध्यक्ष का बचाव किया है।

उन्होंने कहा कि राहुल शिव भक्त हैं और उनके यहां लंबे समय से भगवान शिव की पूजा होती रही है। बता दें सोमनाथ दौरे पर विवाद के अगले दिन राहुल ने कहा था कि वह और उनका परिवार शिवभक्त है। लेकिन राजनीतिक फायदे के लिए वे धर्म का इस्तेमाल नहीं करना चाहते।

कांग्रेसी नेता ने कहा, “अमित शाह खुद को हिंदू बताते है। मगर वह जैन हैं। जहां तक राहुल गांधी की बात है, तो उनके घर में लंबे समय से भगवान शिव की पूजा होती रही है। इंदिरा गांधी भी रुद्राक्ष पहनती थीं, जो सिर्फ शिव भक्त ही पहनते हैं।”

बब्बर ने एक अंग्रेजी चैनल को दिए इंटरव्यू में कहा, “इंसान जहां पैदा होता है। वही उसका धर्म होता है। वह किस पद्धति में है। किस पूजा को करता है। उसका कौन आराध्य है। उसके लिए वह ढोल नहीं बजाता। यहां जो अमित शाह अपने आप को हिंदू कहते हैं। वह तो जैन हैं। पहले तय करें कि जैन हैं या हिंदू हैं। क्योंकि जैन धर्म तो अलग है न।”

कांग्रेस उपाध्यक्ष ने इससे पहले कहा था कि उन्हें धर्म के बारे में किसी के सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं है। न ही वे धर्म को लेकर दलाली करते हैं। उन्होंने यह भी आरोप लगाया था कि भाजपा के कुछ कार्यकर्ताओं ने मंदिर में गैर हिंदुओं वाले रजिस्टर में उनका नाम लिखा था, जिससे विवाद हुआ। जबकि, मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक राहुल के मीडिया कॉर्डिनेटर ने मनोज त्यागी ने उनका नाम रजिस्टर में लिखा था। वहीं, नियमों पर नजर मारें, तो इस मंदिर में गैर हिंदुओं को दर्शन से पहले रजिस्टर में एंट्री करनी होती है। मंदिर परिसर में लगे बोर्ड पर भी इस बाबत लिखा है सोमनाथ मंदिर एक हिंदू मंदिर है और वहां गैर हिंदू अनुमति के बाद ही प्रवेश कर सकते हैं।

-एजेंसी