Mankading पर राहुल मांकड़ बोले, पिता के नाम का गलत इस्तेमाल

नई दिल्‍ली। Mankading रन आउट विवाद पर वीनू मांकड़ के बेटे राहुल मांकड़ ने कहा कि सारे विवाद में मेरे पिता के नाम का गलत इस्तेमाल किया जा रहा है।

इंडियन टी-20 लीग में अश्विन द्वारा जोस बटलर को Mankading रन आउट करने के मामले में अब एक नया मोड़ आ गया है। दरअसल पूर्व भारतीय क्रिकेटर वीनू मांकड़ के बेटे राहुल मांकड़ ने अपने पिता के नाम पर रनआउट रखे जाने पर एतराज जताया है। राहुल मांकड़ ने आपत्ति जताते हुए कहा है कि रन आउट करने के इस तरीके को उनके पिता के नाम पर ‘मांकड़िंग’ कहना गलत है।

इंडियन टी-20 लीग में सोमवार को रविचंद्रन अश्विन के नेतृत्व वाली पंजाब ने राजस्थान को उसके घर में मात दी थी। एक समय आसानी से जीत की ओर बढ़ रही राजस्थान जोस बटलर के विवादित रनआउट के बाद पूरी तरह मैच से बाहर हो गई। 13वें ओवर की आखिरी गेंद पर जब अश्विन गेंदबाजी कर रहे थे, तब राजस्थान की टीम एक विकेट के नुकसान पर 108 रन बनाकर खेल रही थी। क्रीज पर संजू सैमसम (12) और जोस बटलर 43 गेंदों पर 69 रन बनाकर नॉ स्ट्राइकर एंड पर खड़े थे। तभी अश्विन ने उन्हें क्रीज से निकलते देख उन्हें बिना वॉर्निंग दिए चालाकी से रन आउट (मांकडिंग आउट) कर दिया।

राहुल मांकड़ ने इसे दुर्भाग्यपूर्ण बताया
राहुल ने बताया, ‘उनके पिता और पूर्व भारतीय क्रिकेटर वीनू मांकड़ इस तरह से रन आउट करने वाले पहले और आखिरी क्रिकेटर नहीं थे। रन आउट होने की यह विधा क्रिकेट के नियमों के भीतर है। रन आउट को रन आउट ही कहना चाहिए। सबसे पहले किसी ऑस्ट्रेलियाई पत्रकार ने इस रनआउट को यह नाम दिया था। यह बड़े दुर्भाग्य की बात है कि इस तरह आउट होने वाले किसी भी बल्लेबाज के साथ मेरे पिता का नाम जोड़ा जाता है।’

ब्रेडमैन ने वीनू मांकड़ का किया था बचाव
सूत्रों के मुताबिक जब वीनू मांकड़ ने बिल ब्राउन को रन आउट किया था तब उन्हें भी आलोचनाओं का सामना करना पड़ा था। ऐसा बताया जाता है कि उस वक्त ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान और महान क्रिकेटर सर डॉन ब्रैडमैन ने उनका बचाव किया था। उन्होंने कहा था कि इस तरह आउट किए जाने पर बहस नहीं होनी चाहिए। नियम यही कहता है कि गेंदबाज के गेंद फेंकने तक नॉन स्ट्राइक एंड पर खड़े बल्लेबाज को क्रिज के अंदर रहना चाहिए।

अश्विन के पक्ष में एमसीसी
इस तरह आउट करने पर अश्विन की आलोचना हो रही। इस पर अश्विन ने कहा कि यह सहज प्रतिक्रिया थी, इसमें खेल भावना कहां से आ गई? अब क्रिकेट के नियम बनाने वाली संस्था मेरिलबोन क्रिकेट क्लब (एमसीसी) ने स्पष्ट कर दिया है कि अश्विन ने नियम के तहत ही बटलर को आउट किया है। एमसीसी ने कहा, ‘नियमों को विस्तार से समझने की जरूरत है। यह नियम जरूरी है। इसके बिना, नान स्ट्राइकर एंड पर खड़े बल्लेबाज को क्रीज से आगे निकलने की आजादी मिल जाएगी। ऐसी कार्रवाई को रोकने के लिए एक नियम की जरूरत है।’

-एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *