अब मेड इन धौलपुर मोबाइल भी लाएंगे राहुल गांधी

अब मेड इन धौलपुर मोबाइल भी लाएंगे राहुल गांधी
जयपुर। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की मोबाइल फैक्टरी की श्रृंखला में अब धौलपुर और जयपुर का नाम भी जुड़ गया है। राजस्थान में चुनावी रैली के लिए पहुंचे राहुल ने धौलपुर में भी मोबाइल फैक्टरी बनाने की बात कह डाली।
राहुल ने कहा कि आप सेल्फी ले रहे हैं और यदि फोन को पलटते हैं तो उस पर लिखा होता है ‘मेड इन चाइना’। मगर मैं चाहता हूं कि इन फोन पर मेड इन धौलपुर, मेड इन जयपुर और मेड इन राजस्थान लिखा हो।
कांग्रेस की सरकार बनेगी : धौलपुर में मनिया से रोड शो शुरू करने से पहले कांग्रेस अध्यक्ष ने दावा करते हुए कहा कि राज्य में कांग्रेस की सरकार बनने वाली है और वह सबसे पहले जनता की सरकार और उसके बाद कांग्रेस कार्यकर्ताओं की सरकार होगी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सरकार में मुख्यमंत्री और उसके मंत्री जनता के लिए दरवाजे खुले रखेंगे और गरीब से गरीब भी उनसे आसानी से मिल सकेगा और आमजन की सुनवाई होगी।
उन्होंने आरोप लगाते हुए सवाल किया कि केन्द्र की मोदी एवं राज्य की वसुंधरा सरकार ने पिछले साढ़े चार वर्ष में गरीब, बेरोजगार, किसान एवं मजदूरों के लिए क्या किया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने उद्योपतियों को फायदा पहुंचाने के लिए इस दौरान नीरव मोदी, विजय माल्या, मेहुल चौकसी सहित 15-20 अरबपतियों का साढ़े तीन लाख करोड़ रुपए का कर्जा माफ करने का काम किया। उन्होंने कहा कि वह किसानों की आवाज उठाने के लिए मोदी से मिले और मांग की कि किसानों का कर्जा माफ करना चाहिए, इस पर प्रधानमंत्री कुछ नहीं बोले।
राफेल को लेकर हमला : उन्होंने कहा कि मोदी ने 45 हजार करोड़ रुपए के कर्ज वाले अनिल अंबानी को फायदा पहुंचाने के लिए लड़ाकू विमान राफेल के लिए करीब तीन गुना अधिक में सौदा तय किया जबकि इसके लिए पूर्ववर्ती संप्रग के समय एक विमान 526 करोड़ रुपए में लेने की बात थी, लेकिन मोदी सरकार ने इसके लिए एक विमान 1600 करोड़ रुपए में लेने का सौदा किया।
उन्होंने कहा कि अपने को देश के चौकीदार बताने वाले मोदी ने जनता की बजाय अंबानी की मदद की। मोदी के मेक इन इंडिया में लोगों ने रोजगार मिलने की आशा की थी लेकिन मोदी ने अमीर लोगों की मदद के लिए यह वादा भी तोड़ दिया।
गांधी ने कहा कि पिछले वर्षों में लोगों को रोजगार नहीं दिया और नोटबंदी लागू एवं वस्तु सेवा कर (जीएसटी) लगाकर गरीब का पैसा उद्योगपतियों की जेब में डाल दिया। उन्होंने देश में कानून व्यवस्था की हालत खराब बताते हुए कहा कि देश में गुंडागर्दी एवं माफिया का राज चल रहा है। उन्होंने कहा कि मोदी ने बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ का नारा दिया जबकि उत्तर प्रदेश में भाजपा का विधायक महिलाओं के साथ दुष्कर्म करता है और उसे मुख्यमंत्री बचाने का काम करते हैं।
वसुंधरा पर बड़ा आरोप : उन्होंने लंदन में बैठे ललित मोदी की चर्चा करते हुए कहा कि ललित मोदी ने मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के पुत्र को करोड़ों रुपए दिए और प्रधानमंत्री श्रीमती राजे के साथ खड़े होकर कह रहे हैं कि भ्रष्टाचार की लड़ाई लड़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि देश को जोड़ने का काम कांग्रेस ही कर सकती है।
गुजरात में गैर गुजरातियों पर हमले की वजह जीएसटी का गलत क्रियान्वयन
नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुजरात में उत्तर भारतीयों पर हमलों के लिए भाजपा सरकार की नीतियों को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा है कि वस्तु एवं सेवा (जीएसटी) के गलत क्रियान्वयन तथा बढ़ती बेरोजगारी के कारण वहां प्रवासी कामगारों पर हमले हो रहे हैं।
गांधी ने मंगलवार को फेसबुक पर कहा कि भाजपा सरकार ने पहले नोटबंदी की और फिर जीएसटी को गलत तरीके से क्रियान्वित किया है, जिसके कारण गुजरात में कारोबार बंद हो गए और अर्थव्यवस्था डगमगा गई है। इससे बेरोजगारी तथा गरीबी बढ़ रही है और लोगों में गुस्सा पनप रहा है। प्रवासी कामगारों पर हमले रोकने के लिए सरकार को सख्त कदम उठाने चाहिए।
कांग्रेस अध्यक्ष ने अपनी पोस्ट में कहा, कमजोर आर्थिक नीतियां, नोटबंदी और जीएसटी को सही ढंग से क्रियान्वित नहीं किए जाने का दुष्परिणाम है कि समूचे गुजरात में उद्योग तबाह हो गए हैं। औद्योगिक इकाइयां बंद हो रही हैं जिसके कारण बड़े पैमाने पर बेरोजगारी का संकट खड़ा हो गया है। सरकार रोजगार सृजन नहीं कर पा रही है और उसकी इस अक्षमता के कारण युवाओं में हताशा और गुस्सा बढ़ रहा है।
युवकों का यही गुस्सा और हताशा वहां काम करने गए अन्य राज्यों के कामगारों पर हिंसक हमलों के रूप में प्रकट हो रहा है। प्रवासी कामगार हमारी आर्थिक प्रगति के लिए अहम हैं। उन पर हमलों से भय एवं असुरक्षा का माहौल पैदा हो रहा है और यह स्थिति हमारी अर्थव्यवस्था के लिए अच्छी नहीं होगी। सरकार इसे रोकने के लिए दृढ़ता से कार्यवाही करे और शांति बहाली तथा देश के हर नागरिक की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए वह हरसंभव कदम उठाए।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »