पंजाब में राहुल गांधी ने ‘हुआ तो हुआ’ पर कहा: सिख दंगों को लेकर पित्रोदा का बयान शर्मनाक

लुधियाना। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पंजाब के फतेहगढ़ साहिब में एक रैली के दौरान सैम पित्रोदा को सिख दंगों पर बयान के लिए सार्वजनिक रूप से माफी मांगनी चाहिए। उन्होंने पित्रोदा के बयान को शर्मनाक बताया।
लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण की वोटिंग 19 मई को होनी है। इसी दिन पंजाब की 13 सीटों पर भी मतदान है लेकिन कांग्रेस नेता सैम पित्रोदा का सिख दंगों पर दिया बयान ‘हुआ तो हुआ’ पार्टी को टेंशन दे रहा है।
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी आज भी इस बयान पर न केवल सफाई देते दिखे बल्कि कहा कि पित्रोदा को इस बयान पर शर्म आनी चाहिए एवं उन्हें सार्वजनिक तौर पर माफी मांगनी चाहिए।
बता दें कि पित्रोदा अपने बयान पर मीडिया के सामने आकर पहले ही माफी मांग चुके हैं।
‘सार्वजनिक रूप से माफी मांगने को कहा’
राहुल गांधी ने फतेहगढ़ साहिब में रैली के दौरान कहा, ‘सैम पित्रोदा ने 1984 के बारे में बोला है, वह बिल्कुल गलत बोला है। उन्हें देश से इसके लिए माफी मांगनी चाहिए। मैंने सार्वजनिक रूप से कहा और यही मैंने फोन करके भी बोला। मैंने पित्रोदा से कहा कि आपको शर्म आनी चाहिए, आपको सार्वजनिक रूप से माफी मांगनी चाहिए।’
बता दें कि राहुल ने इससे पहले भी अपने फेसबुक पोस्ट पर पित्रोदा के इस बयान की आलोचना की थी। अपने फेसबुक पोस्ट में राहुल ने कहा था कि सैम पित्रोदा ने जो कहा वह अनुचित है और उन्हें इसके लिए माफी मांगनी चाहिए। इससे पहले कांग्रेस पार्टी ने सैम के बयान को निजी बताते हुए पल्ला झाड़ लिया था।
राहुल ने फेसबुक पोस्ट पर की थी आलोचना
राहुल ने आगे लिखा था, ‘मेरा मानना है कि 1984 एक अनावश्यक त्रासदी थी, जिससे असीम पीड़ा हुई।’ कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि न्याय होना चाहिए और जो लोग 1984 की त्रासदी के लिए दोषी थे, उन्हें दंडित किया जाना चाहिए।
राहुल ने फेसबुक पोस्ट में आगे कहा, ‘पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने माफी मांगी है। मेरी मां सोनिया गांधी ने माफी मांगी है। हमने हमारी स्थिति बिल्कुल स्पष्ट की है कि 1984 में एक भयावह त्रासदी हुई थी और ऐसे दंगे कभी नहीं होने चाहिए।’
पित्रोदा ने मांगी थी माफी
चुनावी मौसम में विवाद बढ़ने पर सैम पित्रोदा ने भी माफी मांग ली थी। उन्होंने सफाई में कहा था, ‘मेरी हिंदी अच्छी नहीं है इसलिए मेरे बयान को गलत ढंग से पेश किया गया। मेरे कहने का मतलब था कि जो हुआ वो बुरा हुआ, मैं अपने दिमाग में बुरा का अनुवाद नहीं कर सका था।’ उन्होंने कहा, ‘मुझे दुख है कि मेरा बयान गलत ढंग से पेश किया गया। मैं माफी मांगता हूं।’
बता दें कि पंजाब में आखिरी चरण में मतदान है और सैम पित्रोदा के बयान पर बीजेपी लगातार कांग्रेस पर हमला बोल रही है।
पीएम मोदी ने हर रैली में साधा निशाना
पीएम मोदी ने हरियाणा और पंजाब में लगभग हर रैली में सैम पित्रोदा के बयान पर निशाना साधा था। पीएम मोदी ने हरियाणा की एक चुनावी सभा में कहा था कि कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि 1984 दंगा ‘हुआ तो हुआ’। यह तीन शब्द कांग्रेस के अहंकार को दर्शाते हैं।
सैम पित्रोदा ने 1984 के बारे में बोला है, वह बिल्कुल गलत बोला है। उन्हें देश से इसके लिए माफी मांगनी चाहिए। मैंने सार्वजनिक रूप से कहा और यही मैंने फोन करके भी बोला। मैंने पित्रोदा से कहा कि आपको शर्म आनी चाहिए, आपको सार्वजनिक रूप से माफी मांगनी चाहिए।’ सैम पित्रोदा ने 1984 के बारे में बोला है, वह बिल्कुल गलत बोला है। उन्हें देश से इसके लिए माफी मांगनी चाहिए। मैंने सार्वजनिक रूप से कहा और यही मैंने फोन करके भी बोला। मैंने पित्रोदा से कहा कि आपको शर्म आनी चाहिए,आपको सार्वजनिक रूप से माफी मांगनी चाहिए।’
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »