प्रधानमंत्री पर 7वां सवाल दागने में गलती कर बैठे राहुल गांधी, उठे गणित के ज्ञान पर सवाल

नई दिल्ली। कांग्रेस उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी ने आज प्रधानमंत्री पर 7वां सवाल दागा लेकिन इसमें उन्होंने जो आंकड़े दिए उनमें गलती कर बैठे। आंकड़ों के गणित में उलझे राहुल की इस गलती को बीजेपी ने तुरंत लपक लिया और केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने सवालों से पहले राहुल गांधी के होमवर्क पर सवाल उठा दिया।
दरअसल, कांग्रेस नेता ने महंगाई के मुद्दे पर मोदी सरकार को कठघरे में खड़ा करता ट्वीट किया लेकिन इससे उल्टे उनके ‘गणित ज्ञान’ पर सवाल उठ गए। हालांकि राहुल गांधी ने करीब साढ़े 3 घंटे बाद एक और ट्वीट कर गलती सुधारने की कोशिश की।
जल्द ही कांग्रेस अध्यक्ष बनने जा रहे राहुल गांधी इन दिनों ट्विटर पर प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ मोर्चा खोले हुए हैं और केंद्र से तीखे सवाल पूछ रहे हैं।
राहुल गांधी ने मंगलवार को पीएम मोदी पर शायराना अंदाज में सवाल दागे। उन्होंने ट्वीट किया, ’22 सालों का हिसाब #गुजरात_मांगे_जवाब। प्रधानमंत्रीजी-7वां सवाल:
जुमलों की बेवफाई मार गई
नोटबंदी की लुटाई मार गई
GST सारी कमाई मार गई
बाकी कुछ बचा तो –
महंगाई मार गई
बढ़ते दामों से जीना दुश्वार
बस अमीरों की होगी भाजपा सरकार?”
राहुल गांधी ने ट्वीट के साथ जरूरी सामानों की महंगाई को दिखाता एक ग्राफिक लगाया था जिसमें 2014 से लेकर अब तक सामानों के दाम में कितने प्रतिशत का इजाफा हुआ, उसके बारे में आंकड़ा दिया था। ग्राफिक में बढ़ोत्तरी के प्रतिशत से जुड़े सारे के सारे आंकड़े गलत हैं। जितने प्रतिशत की बढ़ोत्तरी दिखानी थी, उससे 100 पॉइंट्स ज्यादा दिखाया गया है।
मिसाल के तौर पर ग्राफिक में बताया गया है कि 2014 में गैस सिलिंडर की कीमत 414 रुपये थी जो 2017 में 742 रुपये हो गई है और इस तरह उसकी कीमत में 179 प्रतिशत का इजाफा हुआ है लेकिन बढ़ोत्तरी का आंकड़ा गलत है। यह इजाफा 179 प्रतिशत के बजाय 79 प्रतिशत होना चाहिए। इसी तरह दाल की कीमत में 177 प्रतिशत का इजाफा बताया गया है जबकि होना चाहिए था 77 प्रतिशत। ग्राफिक में बताया गया है कि 2014 में प्याज की कीमत 40 रुपये प्रति किलो थी जो 2017 में 80 रुपये प्रति किलो हो गई है और इस तरह प्याज की कीमत में 200 प्रतिशत का इजाफा हुआ है लेकिन यह इजाफा 100 प्रतिशत है न कि 200 प्रतिशत।
शायद गलती का अहसास होने के बाद राहुल गांधी ने एक और ग्राफिक को ट्वीट किया जिसमें उन्होंने कीमतों में बढ़ोत्तरी को प्रतिशत के बजाय रुपयों में दर्ज किया।
राहुल की गलती को बीजेपी ने लपका
पीएमओ में राज्य मंत्री जितेंद्र सिंह ने ‘गणित की गड़बड़ी’ को लेकर राहुल गांधी पर तंज कसा। उन्होंने कहा, ‘उनके सवाल बेढंग से गढ़े हुए हैं। मैं नहीं जानता कि इन सवालों को कौन लिखता है? किस आधार पर वह इन सवालों को पूछते हैं? या तो उन्हें डेटा की बिलकुल भी समझ नहीं है या वह इसे अपनी सुविधा के मुताबिक गलत तरीके से पेश कर रहे हैं। सभी डेटा आधारहीन हैं।’
इससे पहले रविवार को कई बीजेपी नेताओं ने राहुल गांधी के सोशल मीडिया पर चलाए जा रहे ‘प्रश्न अभियान’ की आलोचना की थी। केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने कांग्रेस नेता को अपने स्क्रिप्ट राइटर को बदलने की सलाह दी थी। उन्होंने कहा, ‘उन्हों अपना स्क्रिप्ट राइटर बदल देना चाहिए। कॉलेज लेवल की कविताओं सरीखे बयान जवाब देने के लायक नहीं हैं।’
-एजेंसी