CAB का समर्थन करने पर शिवसेना से खफा हुए राहुल गांधी

नई दिल्‍ली। विवादित CAB (नागरिकता संशोधन बिल) के लोकसभा में पास होने के बाद घमासान मचा हुआ है। लोकसभा में बिल का समर्थन करने पर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने अप्रत्यक्ष रूप से शिवसेना पर निशाना साधा है। राहुल ने नाम लिए बिना ट्वीट किया कि जो इस बिल का समर्थन कर रहा है वह देश की बुनियाद पर हमला कर रहा है। बता दें कि लोकसभा में नागरिकता संशोधन बिल CAB पास हो गया है जहां महाराष्ट्र में कांग्रेस की सहयोगी शिवसेना ने भी बिल का समर्थन किया था।
राहुल गांधी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया, ‘नागरिकता संशोधन विधेयक CAB भारतीय संविधान पर हमला है, जो कोई भी CAB का समर्थन करता है वो हमारे देश की बुनियाद पर हमला और इसे नष्ट करने का प्रयास कर रहा है।’ माना जा रहा है कि राहुल ने इस ट्वीट के जरिए शिवसेना के बिल के समर्थन के फैसले पर नाराजगी जताई है।
संजय राउत के बयान से आया ट्विस्ट
उधर, शिवसेना के राज्यसभा सांसद संजय राउत के एक बयान से मामले में ट्विस्ट आ गया है। संजय राउत ने CAB पर कहा कि कल लोकसभा में क्या हुआ, वह भूल जाइए। इस बयान के बाद कयास लगाए जा रहे हैं कि शिवसेना इस मामले पर अपना स्टैंड बदल सकती है। हालांकि, संजय राउत ने पहले इस बिल का समर्थन किया था।
शिवसेना के समर्थन पर कांग्रेस ने जताई हैरानी
बता दें कि लोकसभा में सोमवार रात नागरिकता संशोधन विधेयक CAB पास हो गया है। इस दौरान शिवसेना के सांसदों ने भी बिल पर सहमति दर्ज कराई जिससे कांग्रेस की काफी किरकिरी भी हुई। कांग्रेस नेता हुसैन दलवई ने शिवसेना के बिल को समर्थन देने पर हैरानी जताई। उन्होंने कहा, ‘मुझे नहीं पता कि शिवसेना ने CAB को समर्थन क्यों दिया है। मेरे ख्याल से तो उन्हें वॉकआउट कर देना चाहिए था।’
कल राज्यसभा में पेश होगा बिल
लोकसभा में CAB के पास होने के बाद बुधवार को इसे राज्यसभा में पेश किया जाएगा। लोकसभा में इस बिल के पक्ष में 311 वोट पड़े जबकि 80 सांसदों ने इसके खिलाफ मतदान किया। पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान से आए शरणार्थियों को इस बिल में नागरिकता देने का प्रस्ताव है। इस बिल में इन तीनों देशों से आने वाले हिंदू, जैन, सिख, बौद्ध, पारसी और ईसाई समुदाय के शरणार्थियों को नागरिकता का प्रस्ताव है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *