राजीव गांधी और राफेल पर आमने-सामने राहुल और रक्षा मंत्री

सिरसा। पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा राजीव गांधी को ‘भ्रष्टाचारी नंबर वन’ वाले कमेंट के बाद कांग्रेस और बीजेपी में जुबानी जंग और तीखी होती जा रही है। हरियाणा के सिरसा में चुनावी रैली के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक बार फिर पीएम नरेंद्र मोदी को इस मुद्दे पर निशाने पर लिया। अपने पिता राजीव गांधी पर दिए पीएम के बयान पर पलटवार करते हुए राहुल ने कहा, ‘आपको राजीव गांधी की बात करनी है कीजिए, मेरी करनी है कीजिए…दिल खोलकर कीजिए लेकिन जनता को यह भी तो समझा दीजिए कि आपने राफेल मामले में क्या किया और क्या नहीं किया।’ वहीं, बीजेपी भी इस मुद्दे पर फिर वार करने से बिल्कुल नहीं चूकी। केंद्रीय रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने कांग्रेस पर तंज कसते हुए कहा कि राजीव गांधी इस देश के पीएम थे, हम सबको यह मालूम है, दुर्भाग्य से उनकी हत्या कर दी गई। इसका यह मतलब नहीं कि हम उनकी सरकार के दौरान हुई भ्रष्टाचार पर बात नहीं करें।
सिरसा में पीएम मोदी पर बरसते हुए राहुल ने उन्हें उनके वादों को लेकर भी घेरा। राहुल ने कहा, ‘मेरे पिता और मेरे बारे में जो भी बात करनी है आप कीजिए लेकिन राफेल और 2 करोड़ रोजगार के मुद्दों पर भी तो बात कीजिए। हमारे नौजवानों को बताइए कि आपके 2 करोड़ रोजगार के वादे का क्या हुआ।’
‘आप अमीरों को दीजिए, मैं गरीबों में बाटूंगा’
अनिल अंबानी और भगोड़े उद्योगपतियों के बहाने एक बार फिर राहुल ने पीएम पर हमला बोला। राहुल ने कहा, ‘पीएम मोदी अनिल अंबानी, नीरव मोदी जैसे सिर्फ 15 उद्योगपतियों के लिए काम करते हैं। वह सिर्फ उन्हीं का भला चाहते हैं। उन्हें गरीबों से कोई सरोकार नहीं। ठीक है…मोदीजी आप अपने अमीर दोस्तों को ही पैसे बांटिए, मैं तो गरीबों में बांटूंगा।’
‘मोदीजी ने झूठ बोला, मैं सच कर दिखाऊंगा’
किसानों से वादा करते हुए राहुल ने कहा, ‘मोदीजी ने आपसे झूठ बोला। 15 लाख रुपये देने का झूठ। मैं झूठ नहीं बोलूंगा। मैं 15 लाख नहीं दे सकता लेकिन 3 लाख 60 हजार रुपये आपके खाते में जरूर जाएंगे, यह मैं सुनिश्चित करके रहूंगा।’
‘किसानों के लिए अलग बजट’
अपनी न्याय योजना का जिक्र करते हुए राहुल ने कहा कि यह ऐसी योजना है जिससे गरीबों का तो भला होगा ही लेकिन मध्य वर्ग पर इसका बोझ नहीं पड़ेगा। राहुल ने कहा कि उन्होंने इस बारे में काफी सोच-समझकर इस क्षेत्र के दिग्गज लोगों से संपर्क करने के बाद यह फैसला लिया है। इस दौरान राहुल ने यह भी कहा कि कांग्रेस की सरकार बनने के बाद से देश में दो बजट पेश होंगे, एक आम बजट और एक बजट किसानों के लिए अलग से होगा।
गाली-गलौज करना कांग्रेस के प्रचार का हिस्सा: निर्मला
उधर, केंद्रीय रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘कांग्रेस के पास कोई और मुद्दा नहीं है, गाली-गलौज करना उनके चुनाव प्रचार का हिस्सा है। राजीव गांधी इस देश के पीएम थे, हम सबको यह मालूम है, दुर्भाग्य से उनकी हत्या कर दी गई। इसका यह मतलब नहीं कि हम उनकी सरकार के दौरान हुई भ्रष्टाचार पर बात नहीं करें। सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर कांग्रेस के सवाल पर उन्होंने कहा कि कांग्रेस को किसने रोका था सर्जिकल स्ट्राइक के बारे में बताने से, यह उनका मसला है। अगर कोई सर्जिकल स्ट्राइक पर सवाल पूछता है तो मैं उसका जवाब कैसे नहीं दूं। नोटबंदी पर सवाल आता है तो हम उसका भी जवाब देते हैं। बालाकोट, एयर स्ट्राइक पर जनता का सवाल आता है, हम जवाब दें या नहीं।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »