क़ुरैशी ने कहा, मसूद अज़हर पाकिस्‍तान में ही है किंतु गंभीर बीमार है

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद क़ुरैशी ने सीएनएन को दिए एक इंटरव्यू में कहा है कि उनकी जानकारी के अनुसार जैश-ए-मोहम्मद का सबसे बड़ा नेता पाकिस्तान में ही है.
जब उनसे पूछा गया कि क्या मसूद पाकिस्तान में है, तो उन्होंने जवाब दिया, “हाँ, वो पाकिस्तान में ही है.”
इंटरव्यू कर रहीं नामी पत्रकार क्रिस्टियन अमनपोर ने पूछा कि पाकिस्तान उन्हें गिरफ़्तार क्यों नहीं करता?
इस पर पाकिस्तानी विदेश मंत्री ने कहा, “वो पाकिस्तान में ही है, वो बीमार है, वो इतना बीमार है कि अपने घर से बाहर भी नहीं निकल सकता. वो बहुत बीमार है.”
सीएनएन की पत्रकार ने पूछा कि सब कुछ जानते-समझते हुए भी मसूद अज़हर का नाम आतंकवादियों की सूची में नहीं डाला जा रहा है, आपके कहने पर चीन संयुक्त राष्ट्र में इससे जुड़े प्रस्ताव को वीटो करता रहा है. क्या मौजूदा हालत में तनाव कम करने के लिए अब आप अपना रवैया बदलेंगे?
इसके जवाब में कुरैशी ने कहा, “हम ऐसे हर कदम के लिए खुला रवैया रखते हैं जिससे दोनों देशों के बीच तनाव कम हो सके. अगर आपके पास (भारत के पास) कोई ठोस सबूत है तो आइए बैठकर बात करते हैं, बातचीत की शुरूआत करिए, हम भी वाजिब तरीके से पेश आएँगे.”
जब पाक विदेश मंत्री से पूछा गया कि अज़हर मसूद की वजह से दोनों देशों के बीच इतना तनाव रहता है, फिर भी आप कुछ क्यों नहीं करते? इसके जवाब में उन्होंने कहा, “अगर वे (भारत) ठोस सबूत देते हैं जो पाकिस्तान की अदालतों को मंज़ूर हो, क्योंकि मामला तो अदालत में ही जाएगा. अगर सबूत हैं तो हमारे साथ शेयर करें ताकि हम जनता को (पाकिस्तान की) राज़ी कर सकें और अपने देश की स्वतंत्र न्यायपालिका को संतुष्ट कर सकें.”
क्या आपको हमलों में उनकी भूमिका को लेकर संदेह है? इसके जवाब में पाकिस्तान के विदेश मंत्री ने कहा, “बात मेरे शक करने या न करने की नहीं है, मामले को अदालत में जाना है.”
पुलवामा हमले के लिए मसूद ज़िम्मेदार
14 फरवरी 2019 को जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ़ के एक काफिले पर हमला हुआ था जिसमें भारत के 40 से अधिक जवानों की मौत हो गई थी. इस हमले की ज़िम्मेदारी जैश ए मोहम्मद ने ली थी.
इसके जवाब में 25-26 फरवरी की दरम्यानी रात को भारतीय वायु सेना के लड़ाकू विमानों ने पाकिस्तान में मौजूद चरमपंथी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के कई ठिकानों को तबाह कर दिया है. पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता जनरल आसिफ़ गफ़ूर ने इसकी पुष्टि की,
इसके बाद 27 फरवरी को पाकिस्तान ने कहा कि उनकी वायु सेना ने बुधवार सवेरे भारत प्रशासित कश्मीर में छह ठिकानों पर हमले किए हैं.
कौन है जैश ए मोहम्मद प्रमुख मसूद अज़हर?
जैश-ए-मोहम्मद प्रमुख मसूद अज़हर का नाम सबसे पहले चर्चा में आया 1999 में. इस साल हुए कंधार विमान अपहरण मामले में 160 लोगों की जान बचाने के लिए भारत को मसूद अज़हर सहित तीन आतंकवादियों को रिहा करना पड़ा था.
इसके बाद मसूद अज़हर ने अफ़ग़ानिस्तान में तालिबान की मदद से जैश-ए-मोहम्मद बनाया.
इससे पहले मसूद अज़हर हरक़त उल अंसार का हिस्सा था. उसे कश्मीर में 1994 में पकड़ा गया था जिसके बाद से 1999 में रिहाई तक अज़हर को जम्मू की कोट भलवाल जेल में रखा गया था.
भारत 2001 संसद हमले समेत कई बड़े हमलों के लिए अज़हर की संस्था को ज़िम्मेदार मानता है.
भारत ने हाल के पठानकोट हमले का आरोप भी जैश पर लगाया है.
भारत अज़हर मसूद को अंतर्राष्ट्रीय आतंकवादी घोषित करवाना चाहता है. लेकिन चीन हर बार वीटो कर देता है.
-BBC

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »