पंजाब के पर्यटकों ने मनाली में स्‍कूली छात्राओं के साथ किया बलात्‍कार

मनाली। हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले में दो स्कूली छात्राओं के गैंगरेप का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि मनाली जाने के लिए पीड़िताओं ने एक कार में लिफ्ट ली थी जिसमें मौजूद 5 लोगों ने उनके साथ बलात्‍कार किया। 5 आरोपियों में से पुलिस ने तीन को गिरफ्तार किया है जो कि पंजाब से बठिंडा से हैं और हिमाचल घूमने आए थे।
पीड़ित छात्राओं में से एक की मेडिकल जांच में बलात्‍कार की पुष्टि हुई। पीड़िता नाबालिग है जबकि दूसरी पीड़िता जो कि वयस्क है उसने मेडिकल जांच से इंकार कर दिया है। नाबालिग पीड़िता ने कुल्लू पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई जिसके बाद पंजाब से तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया जबकि हिमाचल प्रदेश के निवासी अन्य दो आरोपियों को अभी तक गिरफ्तार नहीं किया गया है।
नाबालिग ने अपने बयान में कहा कि वह और उसकी दोस्त के साथ पांच लोगों ने बलात्‍कार किया। वहीं वयस्क पीड़िता को पुलिस काउंसलिंग का ऑफर दे रही है ताकि वह भी जांच में मदद कर सके। पुलिस ने बताया कि 15 जून को दो स्कूली लड़कियों ने कुल्लू से मनाली जाने का प्लान बनाया। वह खुद किसी तरह आधे रास्ते तक पहुंचीं और फिर टूरिस्ट कार से लिफ्ट मांगी।
जब लड़कियां घर नहीं पहुंचीं तो उनके पैरंट्स ने 17 जून को पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई। इसके बाद पुलिस ने 19 जून को दोनों लड़कियों का मनाली में पता लगाया। अपनी शिकायत में पीड़िता ने बताया कि वह और उसकी दोस्त का उन लोगों ने बलात्‍कार किया जिन्होंने उसे मनाली तक की लिफ्ट दी थी। उसने गाड़ी का रजिस्ट्रेशन नंबर बताया जिसकी मदद से पुलिस ने भटिंडा से तीन लोगों को 24 जून को गिरफ्तार किया।
दो आरोपियों की तलाश जारी
इनकी पहचान अमनदीप (28), ईशू (23) और अक्षय (23) के रूप में हुई जिन्हें न्यायिक हिरासत में भेजा गया है। कुल्लू एसपी शालिनी अग्निहोत्री ने बताया कि दोनों लड़कियां आरोपियों के साथ शाम तक रुकीं। उन्होंने उनके साथ डिनर भी किया और ऐल्कॉहॉल का सेवन भी किया। सभी टूरिस्ट रंगारी, वशिष्ट और मनाली के गेस्टहाउस में रुके थे। एसपी ने कहा कि बाकी दो आरोपियों की तलाश जारी है। एसपी ने यह भी बताया, ‘हम बयानों की जांच कर रहे हैं और हमें उम्मीद है कि दूसरी पीड़िता भी ठीक तरह से काउंसलिंग के बाद पुलिस की मदद करेगी।’
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »