Punjab AAP में कलह बढ़ी, खैहरा के समर्थन में आए 11 विधायक

खैहरा और संधू का ऐलान- Punjab AAP बठिंडा में 2 अगस्‍त को करेगी आगे का फैसला

चंडीगढ़। Punjab AAP के नेता विपक्ष पद से हटाए गए सुखपाल सिंह खैहरा के समर्थन में आए 11 विधायकों के आ जाने से पार्टी की प्रदेश इकाई में कलह और तेज हो गई है। आज शुक्रवार को सुखपाल सिंह खैहरा ने चंडीगढ़ में वरिष्‍ठ नेता कंवर संधू सहित 11 विधायकों के साथ केंद्रीय नेतृत्‍व के खिलाफ मोर्चा खोल दिया।

उन्‍होंने कंवर संधू सहित 11 विधायकों के साथ प्रेस कान्‍फेंस किया। उन्‍होंने इस तरह पार्टी नेतृत्‍व के खिलाफ खुली बगावत कर दी और मोर्चा खोल दिया। खैहरा और संधू ने ऐलान किया कि 2 अगस्‍त को बठिंडा में आप कि विधायकों, राज्‍य पदाधिकारियों, जिलाha व ब्‍लॉक स्‍तर के पदाधिकारी व राज्‍यभर के आप वर्कर्स भाग लेंगे।

चंडीगढ़ में आयोजित प्रेस कान्‍फेंस में खैहरा के साथ वरिष्‍ठ नेता कंवर संधू स‍हित 11 विधायक मौजूद हैं और अभी मी‍डिया से बातचीत चल रही है। खैहरा आैर संधू ने बताया कि अभी कई विधायक इस प्रेस कान्‍फेंस व बैइक के लिए आ रहे हैं। वे अभी रास्‍ते में हैं। खेैहरा के साथ कवर संधू, नाजर सिंह माशाहिया जगदेव सिंह , बलदेव सिंह, पिरामल सिंह खालसा, जगतार सिंह सहित 10 विधायक मौजूद थे। बाद में दो-तीन विधायक आैर पहुंचे। कंवर संधू का कहना है कि इस संबंध में पार्टी प्रधान अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसोदिया को एक पत्र भी लिखा गया है। इसमे उन्हें अपने फैसले को रिव्यू करने की मांग की गई है।

बता दें कि आम आदमी पार्टी के केंद्रीय नेतृत्‍व ने सुखपाल सिंह खैहरा को पार्टी विधायक दल के नेता पद से हटा दिया है। इसके साथ ही पंजाब विधानसभा में उनका नेता विपक्ष का पद भी उनसे छिन गया है। वरिष्ठ नेता कंवर संधू ने भी आप विधायक दल का प्रवक्ता पद छोड़ने का ऐलान कर दिया।

आज यहां आयोजित बैठक में मौजूद नेताओं ने कहा कि खैहरा को आप विधायक दल के नेता पद से हटाने के फैसले की समीक्षा की जाए। यह पार्टी को कमजोर करने वाला कदम है। पूरे मामले पर विचार-विमर्श के लिए 2 अगस्त को बैठक होगी। उन्‍हाेंने दावा किया कि बठिंडा में होने वाली इस बैठक में सभी विधायक, निचले स्तर के सभी पदाधिकारी और वर्कर शामिल होंगे।

नेताओं ने कहा कि खैहरा को बिना किसी नोटिस के हटाया गया और निर्धारित प्रक्रिया नहीं अपनाई गई। नाजर सिंह मानशाहिया कहा कि कल मनीष सिसोदिया का फोन आया था। मुझे हैरानी हुई खैहरा को शो कॉज नोटिस देकर पूछे बिना इस तरह का कदम उठाया। विधायकों ने इस बात पर नाराजगी जताई कि हाईकमान से उन्हें फोन आया कि खैहरा को पद से हटा दिया गया है। जब उन्होंने यह बात सुनी तो वे हतप्रभ रह गए। विधायकों ने कहा कि उन्हें एक बार भी नहीं पूछा गया खैहरा को हटाना है या नहीं या फिर किसे लगाना है। हाईकमान को चाहिए था कि वह एक बार विधायकों को विश्वास में लेता।

कल पार्टी के प्रदेश प्रभारी मनीष सिसोदिया ने ट्वीट कर कहा था कि खैहरा को नेता विपक्ष के पद से हटा दिया गया है और उनकी जगह हरपाल सिंह चीमा आप विधायक दल व पंजाब विधानसभा में नेता विपक्ष होंगे। दूसरी ओर, आप के वरिष्‍ठ नेता कंवर संधू ने ट्वीट कर चीमा को अाप विधायक दल का नेता बनाए जाने पर बधाई दी है। इसके साथ ही कंवर संधू ने तुरंत प्रभाव से आप विधायक दल के प्रवक्‍ता पद को छोड़ने की इच्‍छा जताई है।

बता दें कि आम आदमी पार्टी की पंजाब इकाई में काफी दिनाें से खींचतान और रस्‍साकसी चल रही थी। दो दिन पहले ही खैहरा ने विधायक दल की बैठक बुलाकर अपनी शक्ति का प्रदर्शन किया था। आप विधायक दल के नेता पद से हटाए जाने से Punjab AAP में कलह और खींचतान तेज होने की संभावना है।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »