Pujara ने शतक जमाकर अपने नाम दर्ज किए ये कीर्तिमान

Pujara के जुझारू शतक से टीम इंडिया ने बनाए 250 रन, पहला दिन कंगारुओं के नाम
एडिलेड। Cheteshwar Pujara ने 123 रन की शानदार शकतीय पारी खेलकर टीम इंडिया की लाज रखी। इस शतकीय पारी से उन्होंने अपने नाम कई रिकॉर्ड भी दर्ज किए।

चेतेश्वर पुजारा (123) के जुझारू शतक ने टीम इंडिया को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एडिलेड टेस्ट के पहले दिन सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचा दिया है। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी टीम इंडिया ने गुरुवार को स्टंप्स तक 87.5 ओवर में 9 विकेट खोकर 250 रन बनाए। मोहम्मद शमी 6 रन बनाकर क्रीज पर जमे हुए हैं। पुजारा के रनआउट होते ही अंपायरों ने पहले दिन स्टंप्स की घोषणा की।

गौरतलब है कि टीम इंडिया और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले जा रहे पहले टेस्ट के पहले दिन का खेल खत्म हुआ। पहले ही दिन कंगारुओं के आगे टीम इंडिया पस्त दिखी। कंगारुओं के गेंदबाजों को एकमात्र चेतेश्वर पुजारा ही झेल पाए। इसके अलावा सारे बल्लेबाज फ्लॉप रहे।

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने गुरुवार को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। पहले बल्लेबाजी करते हुए टीम इंडिया की शुरुआत बेहद निराशाजनक रही। मगर चेतेश्वर पुजारा ने टीम इंडिया का दामन थामे रखा और स्कोर को दिन का खेल खत्म होने तक 9 विकेट के नुकसान पर 250 तक पहुंचाया। 123 रन की शानदार शतकीय पारी से उन्होंने अपने नाम खास रिकॉर्ड दर्ज किए।

आइए जानते वो कौन से रिकॉर्ड हैंः

दरअसल, पहले बल्लेबाजी करने उतरी टीम इंडिया 19 रन के स्कोर पर अपना तीन विकेच गंवा चुकी थी। इसके बाद पुजारा ने पिच पर डटकर 246 गेंदों पर 7 चौके और 2 छक्कों की मदद से 123 रन की शतकीय पारी खेली। इस दौरान उन्होंने अपने टेस्ट करियर का 16वां शतक पूरा किया और टेस्ट क्रिकेट में 5,000 रन का आंकड़ा भी पार किया। उन्होंने 108 पारियों में अपना 5,000 रन का आंकड़ा पूरा किया। इस मामले में उन्होंने पूर्व दिग्गज बल्लेबाज राहुल द्रविड़ की बराबरी की। यह महज एक संयोग ही है कि द्रविड़ ने भी 108 पारियों में 5000 रन का आंकड़ा पूरा किया था।

पुजारा ने इस दौरान 5,000 टेस्ट रन भी पूरे किए। टेस्ट क्रिकेट में सबसे जल्दी 5,000 रन पूरे करने वाले भारतीय बल्लेबाज हैं सुनील गावस्कर। लिटिल मास्टर ने 95 पारियों में यह उपलब्धि हासिल की थी। फिर वीरेंद्र सहवाग (99), सचिन तेंदुलकर (103) और विराट कोहली (105) काबिज हैं।

इसके अलावा पुजारा ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट मैच में तीसरे क्रम पर बल्लेबाजी करके शतक जमाने वाले चौथे भारतीय बल्लेबाज बने। इससे पहले 2008 में वीवीएस लक्ष्मण, 2003 में राहुल द्रविड़ और 1986 व 1977 में मोहिंदर अमरनाथ यह कमाल कर चुके हैं।

वैसे, एशिया के बाहर टेस्ट के पहले दिन शतक जमाने के मामले में पुजारा सातवें स्थान पर रहे। इससे पहले 1952 लीड्स में विजय मांजरेकर (133), 2001 ब्लोएमफोंटीन में सचिन तेंदुलकर (155), 2001 ब्लोएमफोंटीन में वीरेंद्र सहवाग (105), 2013 जोहानसबर्ग में विराट कोहली (119), 2014 ट्रेंटब्रिज में मुरली विजय (122) और 2016 नॉर्थ साउंड में विराट कोहली (143) भी टेस्ट के पहले दिन शतक जमा चुके हैं।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »