पीटी उषा को मिला प्रतिष्ठित आईएएएफ Veteran Pin अवॉर्ड

दोहा। भारत की महान ट्रैक ऐंड फील्ड ऐथलीट पी टी उषा को उनके खेल में योगदान को देखते हुए बुधवार को विश्व ऐथलेटिक्स संचालन संस्था द्वारा दोहा में Veteran Pin से सम्मानित किया गया। आईएएएफ प्रमुख सेबेस्टियन को ने यहां 52वें आईएएएफ कांग्रेस के दौरान Veteran Pin भेंट की। एशिया से तीन खिलाड़ियों को इस पुरस्कार से सम्मानित किया गया, जिसमें से एक उषा हैं।

‘पायोली एक्सप्रेस’ के नाम से विख्यात भारत की पूर्व ऐथलीट और ओलिम्पियन पीटी उषा को प्रतिष्ठित अंतर्राष्ट्रीय ऐथलेटिक्स महासंघ (IAAF) वेटरन पिन अवॉर्ड से नवाजा गया है। दिगाज उषा ने बुधवार को ट्विटर पर तस्वीर शेयर कर इस बात की जानकारी दी। उन्होंने ट्वीट कर आईएएएफ और उसके अध्यक्ष का आभार जताया और देश में ऐथलेटिक्स को बढ़ावा देने के लिए काम करने की बात की।

उषा को 24 सितंबर में कतर में हुई आईएएएफ की 52वीं कांग्रेस के दौरान इस प्रतिष्ठित सम्मान से सम्मानित किया गया।

उषा 1984 में लॉस एंजेलिस ओलंपिक में 400 मीटर बाधा दौड़ के फाइनल में पहुंची थीं लेकिन सेकंड के सौवें हिस्से से कांस्य पदक से चूक गई थीं।

उन्हें 1983 में अर्जुन अवॉर्ड मिला था। दो साल बाद 1985 में उन्हें पद्मश्री पुरस्कार भी दिया गया। उषा नए खिलाड़ियों के लिए अपनी अकादमी भी चलाती हैं।
उषा का यादगार प्रदर्शन 1984 लॉस एंजिल्स ओलिंपिक में रहा जिसमें वह 400 मीटर बाधा दौड़ के फाइनल्स में पहुंचने वाली पहली भारतीय बनी थीं लेकिन एक सेकंड के 100वे हिस्से से ब्रॉन्ज मेडल से चूक गई थीं। उन्होंने 1985 जकार्ता एशियाई खेलों में ब्रॉन्ज के अलावा पांच स्वर्ण पदक -100 मी, 200 मी, 400 मी, 400 मी बाधा दौड़ और चार गुणा 400 मी रिले- जीते हैं।
– एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *