100 करोड़ की प्रॉपर्टी और बेटी को त्‍याग सन्‍यासी बनने जा रहा है यह कपल

नीमच। एक कपल ने सन्यासी बनने के लिए अपनी तीन वर्षीय बच्ची और 100 करोड़ की प्रॉपर्टी छोड़ दी। मध्य प्रदेश के नीमच जिले में रहने वाले इस कपल के इस फैसले से आसपास के लोग आचंभित हैं।
प्राप्‍त जानकारी के अनुसार 35 साल के सुमित राठौड़ और उनकी पत्नी 24 वर्षीय अनामिका 23 सितंबर को गुजरात के सूरत में दीक्षा लेंगे। दोनों को आचार्य रामलाल महराज दीक्षा दिलाएंगे।
भोपाल से 400 किलोमीटर दूर स्थित नीमच में लोग दोनों के इस फैसले पर चर्चा कर रहे हैं। लोग आचंभित हैं कि राजनीति और व्यापार में इतना सफल होने के बाद भी सुमित और अनामिका ने कैसे सन्यासी बनने का फैसला ले लिया।
अनामिका के पिता आशोक ने बताया कि बेटी और दामाद के सन्यासी बन जाने के बाद पोती की जिम्मेदारी वो खुद उठाएंगे। उन्होंने कहा, ‘कोई भी अपना धार्मिक फैसला लेने के लिए स्वतंत्र है और उसे रोका नहीं जा सकता है। वहीं, सुमित के व्यापारी पिता राजेंद्र सिंह राठौड़ का कहना है कि हमें ऐसा प्रतीत हो रहा था कि वह सन्यासी बन जाएगा लेकिन इतना जल्दी होगा, ऐसा नहीं सोचा था।’
बता दें कि सुमित और अनामिका ने सन्यासी बनने का फैसला उसी समय ले लिया था जब उनकी बेटी आठ महीने की थी। दोनों एक दूसरे से अलग अलग भी रहने लगे थे।
-एजेंसी