प्र‍िंस चार्ल्स ने भारत सह‍ित द. एश‍िया के ल‍िए लांच क‍िया COVID-19 इमरजेंसी फंड

लंदन/नई द‍िल्ली। British Asian Trust के शाही संस्थापक संरक्षक के रूप में ब्रिटेन के प्रिंस चार्ल्स ने शुक्रवार को भारत, पाकिस्तान, बांग्लादेश और श्रीलंका के लिए एक नए कोविड-19 आपातकालीन अपील फंड की शुरुआत की। बता दें कि ब्रिटिश राजघराने के 71 वर्षीय वारिस प्रिंस चार्ल्स खुद कोरोना वायरस के शिकार हो गए थे, जहां पिछले महीने के अंत में उन्होंने इस खतरनाक बीमारी को मात दी।

प्रिंस चार्ल्स ने महामारी के दौरान महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के लिए ब्रिटेन के एशियाई समुदाय की प्रशंसा की। इस दौरान उन्होंने प्रवासियों से आह्वान किया कि वे अपने देशों में सबसे कमजोर लोगों की मदद के लिए आगे आएं।

वेल्स के राजकुमार ने ट्रस्ट के लिए एक वीडियो संदेश में कहा, ” मुझे पता है कि यूनाइटेड किंगडम में ब्रिटिश एशियाई समुदाय इस संकट की प्रतिक्रिया में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। चाहे फिर वो एनएचएस (राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा) में या अन्य भूमिकाओं में प्रमुख कार्यकर्ताओं के रूप में, या सभी समुदायों के सभी सदस्यों का समर्थन करने के लिए मंदिरों, मस्जिदों और गुरुद्वारों में स्वयंसेवकों और स्थानीय पहल की तरफ से किए गए शानदार काम के माध्यम से।”

उन्होंने कहा, “मैं भारत, पाकिस्तान, बांग्लादेश और श्रीलंका में सबसे ज्यादा पीड़ित लोगों की मदद के लिए एक आपातकालीन अपील की शुरुआत के लिए अपना समर्थन देना चाहता था।”

उन्होंने कहा, “आज इस महामारी के जवाब में अपनी भूमिका निभाने के लिए, ब्रिटिश एशियन ट्रस्ट, स्थानीय संगठनों और सरकारों के साथ साझेदारी में, सबसे गरीब और सबसे कमजोर लोगों की प्रतिदिन की बुनियादी जरूरतों का समर्थन करने के लिए तेजी से अपना काम कर रहा है।”

ब्रिटिश एशियन ट्रस्ट के संस्थापक एवं अध्यक्ष के तौर पर प्रिंस चार्ल्स ने अपनी योजनाओं के बारे में बताया। उनका यह संगठन दक्षिण एशिया में लोगों को सशक्त करने की दिशा में काम करता है।

सन् 2016 में नेचुरल हिस्ट्री म्यूजियम में संगठन के वार्षिक रात्रिभोज के दौरान उन्‍होंने भारत में ग्रामीण किसानों की मदद के लिए भी एक प्रतिबद्ध कोष की घोषणा की थी।

– एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *