25 सितंबर को नई योजना ‘सौभाग्य’ की शुरुआत करेंगे प्रधानमंत्री मोदी

नई दिल्ली। पीएम मोदी सभी को 24 घंटे बिजली उपलब्ध कराने के लिए 25 सितंबर को नई योजना ‘सौभाग्य’ की शुरुआत करेंगे। यह जानकारी बिजली मंत्री आर के सिंह ने शनिवार को दी।
25 सितंबर को आरएसएस के वरिष्ठ नेता और जनसंघ के संस्थापक सदस्य दीनदयाल उपाध्याय की जयंती भी है। योजना के बारे में आर के सिंह ने ज्यादा बताने से इंकार कर दिया, लेकिन माना जा रहा है कि इस योजना के तहत इस साल दिसंबर तक देश के सभी गांवों का बिजलीकरण कर दिया जाएगा।
आर के सिंह ने कहा कि केंद्र ने राज्य सरकारों से बिजलीकरण के प्रॉजेक्ट्स तैयार करने को कहा है जिनके लिए केंद्र सहमति देने के बाद फंड जारी कर देगा।
आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक योजना का नाम ‘सौभाग्य’ होगा और इसके तहत ट्रांसफॉर्मर्स, मीटर्स और तारों के लिए सब्सिडी मिलेगी। इस हफ्ते हुई कैबिनेट मीटिंग के अजेंडा में यह योजना भी थी। कैबिनेट मीटिंग के बाद वित्त मंत्री ने इस योजना के बारे में बताते हुए कहा था कि इस योजना की पुष्टि हमारे निर्णय लेने के बाद कर दी जाएगी।
सरकार सभी गावों तक बिजली पहुंचाने के लिए तेजी से काम कर रही है और सभी को 24 घंटे बिजली उपलब्ध कराने के लिए 2019 का टारगेट बना चुकी है। पावर सेक्टर में सुधारों की बात करते हुए आर के सिंह ने बताया कि सरकार बिजली खरीदने से जुड़े कानूनों को और कड़ा करने जा रही है। सिंह ने बताया कि उन्होंने इस साल के अंत तक 20 हजार मेगावॉट बिजली वायु ऊर्जा से और 20 हजार मेगावॉट बिजली सौर ऊर्जा से बनाने का टारगेट दिया है।
उन्होंने कहा कि अधिकतर उपभोक्ता प्रीपेड बिजली कनेक्शन पर शिफ्ट होंगे जिससे बिजली कंपनियों को हुए घाटे की भरपाई हो जाएगी। इसके अलावा बिजली की मांग को पूरा करने के लिए सरकार एनटीपीसी की क्षमता को बढ़ाने पर जोर दे रही है। राज्य सरकारों की बिजली मांग को पूरा करने के लिए सरकार पावर पर्चेज एग्रीमेंट्स को बढ़ावा देने पर विचार कर रही है। सिंह ने कहा, ‘भारत विकास के रास्ते पर है और बिजली की मांग बढ़ेगी।’
-एजेंसी