प्रधानमंत्री ने आज छत्तीसगढ़ को दीं कई सौगातें, IIT की आधारशिला भी रखी

Prime Minister gave several gifts to Chhattisgarh, laid the foundation stone of IIT
प्रधानमंत्री ने आज छत्तीसगढ़ को दीं कई सौगातें, IIT की आधारशिला भी रखी

रायपुर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने छत्तीसगढ़ को कई सौगातें भेंट की। गुरुवार को नया रायपुर में इंटीग्रेटेड कंट्रोल एंड कमांड सेंटर का उद्घाटन करने के बाद प्रधानमंत्री मोदी भिलाई स्टील प्लांट में पहुंचे। यहां उन्‍होंने भिलाई इस्पात संयंत्र के विस्तारीकरण यूनिटों को राष्ट्र को समर्पित किया और IIT की आधारशिला रखी।
इस मौके पर प्रधानमंत्री मोदी ने अपने संबोधन में सबसे पहले छत्तीसगढ़ी भाषा में लोगों का स्वागत किया। मोदी ने कहा कि दो महीने पहले मुझे छत्तीसगढ़ में आयुष्मान भारत योजना के पहले चरण की शुरुआत करने का सौभाग्य मिला था और आज दूसरी बार मुझे छत्तीसगढ़ में भिलाई स्टील प्लांट के विस्तारीकरण, IIT, जगदलपुर विमान सेवा जैसी कई योजनाओं को शुरुआत करने का सुअवसर मिला है।
उन्होंने जोरदेकर कहा कि पहले बस्तर की बात होती थी तो बम बंदूक की चर्चा होती थी लेकिन आज जगदलपुर में एयरपोर्ट खुलने की बात हो रही है। इस दौरान उन्होंने बस्तर को लेकर अटलजी के सपने की भी चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री रमन सिंह की तारीफ की। उन्‍होंने कहा कि रमन जी ने अटलजी के सपने को साकार करने के लिए कड़ी मेहनत की।
प्रधानमंत्री ने छत्तीसगढ़ में अपनी पुरानी यादों का जिक्र करते हुए कहा कि यह प्रदेश मेरे लिए कोई नया नहीं है। उन्‍होंने कहा कि जब छत्तीसगढ़ प्रदेश का अस्त्तिव नहीं था, तब मैं यहां टू विलर से आता था। मोदी ने कहा कि प्रदेश में शायद ही कोई जिला बचा होगा, जहां मेरा जाना नहीं हुआ हो। उन्‍होंने कहा कि इस देश के बहुत से कम लोगों को पता होगा कि देश की आजादी के बाद पूरे देश में जितनी भी पटरियां बनाई है, वो इसी धरती के ऊपर बनी हैं।
प्रधानमंत्री ने कहा कि आज IIT भिलाई के अपने कैंपस का शिलान्यास किया गया है। लगभग 1,100 रुपये करोड़ की लागत से बनने वाला ये IIT कैंपस छत्तीसगढ़ और देश के मेधावी छात्रों के लिए प्रोद्योगिकी और तकनीकी शिक्षा का तीर्थ बनेगा। उन्हें कुछ नया करने के लिए हमेशा प्रेरित करता रहेगा। मोदी ने कहा कि हमने यह सुनिश्चित किया है कि जो भी खनिज निकलेगा उससे होने वाली कमाई का एक हिस्सा स्थानीय निवासियों पर खर्च करना आवश्यक होगा। इसके बाद छत्तीसगढ़ को भी तीन हजार करोड़ रुपए से ज्यादा की अतिरिक्त राशि मिली है। ये अस्पताल, स्कूल, सड़कें, शौचालय बनाने में खर्च हो रहे हैं।
उन्‍होंने आगे कहा भिलाई ने सिर्फ स्टील ही नहीं बनाया, बल्कि जिंदगियां, समाज और देश भी बनाया है। भिलाई का ये आधुनिक और परिवर्तित स्टील प्लांट अब न्यू इंडिया की बुनियाद को भी स्टील जैसा मजबूत करने का काम करेगा। आपने खुद अनुभव किया है कि कैसे स्टील प्लांट लगने के बाद यहां की तस्वीर बदल गई। जिस राज्य के निर्माण के पीछे हमारे श्रद्धेय अटल जी का विजन है, आप सभी की कड़ी तपस्या है, उस राज्य को तेज़ गति से आगे बढ़ते देखना हमेशा मेरे लिए बहुत सुखद अनुभव होता है।
अटल जी के विजन को आपके लोकप्रिय मुख्यमंत्री रमन सिंह जी, पूरे परिश्रम के साथ आगे बढ़ा रहे हैं। भिलाई में स्टील प्लांट के विस्तार, जगदलपुर हवाई अड्डा और नया रायपुर के कमांड सेंटर का लोकार्पण किया गया। भिलाई में IIT कैंपस के निर्माण और राज्य में भारत नेट फेज-2 पर काम शुरु हो गया है। करीब-करीब 22,000 करोड़ रुपए से ज्यादा की योजनाओं का उपहार आज छत्तीसगढ़ को मिला है। पीएम ने कहा कि मैं मानता हूं कि किसी भी तरह की हिंसा का, हर तरह की साजिश का, एक ही जवाब है- विकास। विकास से विकसित हुआ विश्वास, हर तरह की हिंसा को खत्म कर देता है।
भिलाई में सभास्थल पर इससे पहले मुख्यमंत्री रमन सिंह ने संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी का स्वागत करते हुए केंद्र सरकार की आयुष्मान भारत योजना की जमकर तारीफ की। इस दौरान प्रधानमंत्री ने जगदलपुर के लिए घरेलू विमान सेवा की भी शुरुआत की।
बता दें कि गुरुवार को सबसे पहले एयरपोर्ट से प्रधानमंत्री मोदी सीधे इंटीग्रेटेड कंट्रोल एंड कमांड सेंटर का उद्घाटन करने पहुंचे। इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने यहां बच्चों से भी बात की। इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी भिलाई स्टील प्लांट पहुंचे। इस दौरान उन्होंने कार से उतरकर अभिवादन कर रहे लोगों से भी मुलाकात की। लोगों का उत्साह देखकर प्रधानमंत्री कार का गेट खोलकर कार में खड़े होकर लोगों का अभिवादन स्वीकार करने लगे।
प्रधानमंत्री ने भिलाई स्टील प्लांट में प्लांट पर आधारित मूवी भी देखी। प्रधानमंत्री के साथ इस दौरान केंद्रीय इस्पात मंत्री और सेल चेयरमैन भी थे। इसके बाद वह भिलाई इस्पात संयंत्र से करीब एक बजे निकलकर जयंती स्टेडियम सभास्थल पर पहुंचे।
विधानसभा चुनाव के मुहाने पर खड़े छत्तीसगढ़ में पीएम की दो महीने के भीतर यह दूसरी यात्रा है। इससे पहले 14 अप्रैल को बीजापुर के जांगला से मोदी ने आयुष्मान भारत योजना की शुरुआत की थी। इसी रविवार को भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर की सभा में पहुंचे थे।
भिलाई स्टील प्लांट में 55 साल बाद पहुंचा कोई प्रधानमंत्री
देश के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू को छोड़कर दूसरा कोई प्रधानमंत्री भिलाई के स्टीट प्लांट में नहीं पहुंचा था। करीब 55 साल बाद, नरेंद्र मोदी ऐसे दूसरे प्रधानमंत्री हैं जो यहां आए।

नक्सलियों की धमकी पीएम पर बेअसर, रोड शो किया
रायपुर। देश के राजनीति की दिशा बदलने वाले मोदी अपनी जिद के लिए भी जाने जाते हैं। यहां भी उनकी जिद और जनता के बीच जाने का जुनून दिखा। नक्सलियों द्वारा आत्मघाती धमकी का मामला सामने आने के बाद मोदी पहली बार किसी नक्सल प्रभावित राज्य के दौरे पर हैं।
उनकी सुरक्षा में लगी एसपीजी ने उन्हें रोड शो न करने की सलाह दी थी। मोदी ने औपचारिक रोड शो तो नहीं किया लेकिन भिलाई स्टील प्लांट क्षेत्र में मोदी के काफिले को देखने जुटी भारी भीड़ को देख वह रोड शो के मूड में आ गए। सुरक्षा चिंता छोड़ कार का दरवाजा खोल कर आधा शरीर चलते वाहन में ही बाहर निकाल लिया। लोगों का हाथ हिलाकर अभिवादन करने लगे।
प्रधानमंत्री मोदी ने बच्चों को दी ऐसी सलाह
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज यहां नया रायपुर में एकीकृत कमांड एण्ड कंट्रोल सेंटर का लोकार्पण करने के बाद क्रिस्टल हाउस स्कूल नया रायपुर के नन्हें बच्चों से मुलाकात की। इस अवसर पर मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह भी उनके साथ थे। बच्चों ने बाल सुलभ अंदाज में प्रधानमंत्री जी को अपनी दिनचर्या और स्वच्छता की बातें बतलायी।
उन्होंने कहा कि वो न तो स्वयं कचरा फैलाते है बल्कि दूसरों को कचरा फैलाने से रोकते भी है। प्रधानमंत्री मोदी ने बच्चों से बड़े प्यार के साथ पूछा कि कहां कहां से है और कौनसी पढ़ाई की है, क्या-क्या खेलते हैं। बच्चों ने बड़े ही आदर से उनका जवाब भी दिया।
प्रधानमंत्री श्री मोदी ने बच्चों से कहा कि वो इसी तरह मेहनत करें, पढ़े, खूब खेलें और बड़े होकर बड़े काम करें। उन्होंने बच्चों से आज से शुरू हो रहे फुटबाल वर्ल्‍ड कप देखने को कहा। इस अवसर पर छत्तीसगढ़ के आवास एवं पर्यावरण मंत्री श्री राजेश मूणत सहित विद्यालय की शिक्षिका श्रीमती मनीषा अग्रवाल उपस्थित थे।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »