नीति आयोग की बैठक में LG Anil Baijal की मौजूदगी की खबर झूठी: अमिताभ कांत

नई दिल्‍ली। नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमिताभ कांत ने LG Anil Baijal की उपस्थिति का दावा करने वाली खबरों को झूठा करार दिया है।

नीति आयोग की बैठक में दिल्ली के LG Anil Baijal के उपस्थिति संबंधी खबरों पर मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने आज कहा कि उन्होंने शहर के संवैधानिक प्रमुख को बैठक में शामिल होने के लिए अधिकृत नहीं किया है। वहीं नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमिताभ कांत ने बैजल की उपस्थिति का दावा करने वाली खबरों को झूठा करार दिया है।

केजरीवाल ने ट्वीट किया है, ”संविधान के किस अनुच्छेद के तहत उपराज्यपाल को मुख्यमंत्री का स्थान लेने का अधिकार है? मैंने उन्हें अपने स्थान पर जाने के लिए अधिकृत नहीं किया है।

ट्विटर पर किसी ने दावा किया था कि LG Anil Baijal नीति आयोग की बैठक में दिल्ली का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं और बैठक स्थल पर पहुंच गये हैं। केजरीवाल ने इसी पर प्रतिक्रिया देते हुए ट्वीट किया था। खबर पर प्रतिक्रिया देते हुए नीति आयोग के सीईओ कांत ने कहा, ”यह बिलकुल गलत है। दिल्ली के उपराज्यपाल नीति आयोग के संचालन परिषद की चौथी बैठक में उपस्थित नहीं हैं।

केजरीवाल, दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और मंत्रियों सत्येन्द्र जैन तथा गोपाल राय के साथ सोमवार से ही उपराज्यपाल कार्यालय में धरने पर बैठे हैं। उनकी मांग है कि सरकार आईएएस अधिकारियों की तथाकथित ”हड़ताल” खत्म कराये और घर-घर राशन पहुंचाने की उनकी सरकार की योजना को मंजूरी दे।

नीति आयोग के संचालन परिषद की चौथी बैठक आज हो रही है जिसमें मुख्य एजेंडा किसानों की आय दुगुनी करने के लिए उठाए गए कदमों और सरकार की महत्वाकांक्षी योजनाओं में हुई प्रगति पर चर्चा है। राष्ट्रपति भवन में चल रही बैठक की अध्यक्षता प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कर रहे हैं।

आज की बैठक में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री चन्द्रबाबु नायडू , केरल के मुख्यमंत्री पिनरई विजयन , कर्नाटक के मुख्यमंत्री एच . डी . कुमारस्वामी , राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आदि भाग ले रहे हैं। केन्द्रीय मंत्रियों मे जेपी नड्डा और नितिन गडकरी इसमें हिस्सा ले रहे हैं।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »