Praveen Togadia कल अयोध्‍या में करेंगे महत्‍वपूर्ण घोषणा

फैजाबाद। अयोध्या में अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद (एएचपी) के प्रमुख Praveen Togadia ने लोकसभा चुनाव लड़ने के संकेत देते हुए कहा कि कल होगा महत्वपूर्ण निर्णय। सूत्रों के अनुसार कल अयोध्या में Praveen Togadia चुनाव लड़ने की घोषणा कर सकते हैं और अंतर्राष्ट्रीय हिंदू परिषद को राजनीतिक पार्टी घोषित किया जा सकता है।

अयोध्या में अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद (एएचपी) के प्रमुख प्रवीण तोगड़िया ने कहा कि अब अगला आंदोलन ‘राम मंदिर नहीं तो वोट नहीं’ के नारे के साथ होगा। जिला प्रशासन से सरयू तट पर सभा की अनुमति ना मिलने के बावजूद प्रवीण तोगड़िया सभा करने पहुंचे थे। उन्होंने समर्थकों को संबोधित करते हुए कहा कि 32 साल से आरएसएस, बीजेपी और वीएचपी एक ही मुद्दे को लेकर राम मंदिर का आंदोलन चला रहे थे कि संसद में कानून बनाकर राम मंदिर बने, मगर अब जब यही लोग पूर्ण बहुमत के साथ सत्ता में हैं तो राम मंदिर का दर्शन तक करने नहीं आते।

तोगड़िया ने बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा, ‘दिल्ली में 500 करोड़ का बीजेपी दफ्तर बनवा लिया, मगर रामलला आज भी टाट में ही हैं।’ तोगड़िया ने प्रदेश सरकार पर आरोप लगाया कि हमें अयोध्या में रहने से रोका गया। हमारे समर्थकों के खाने के सामान से लदे ट्रक को रोका गया, ऐसा तो मुलायम राज में हुआ था।

‘लखनऊ में बाबरी मस्जिद बनवाने जा रही सरकार’
प्रवीण तोगड़िया ने केंद्र सरकार पर आरोप लगाया कि सरकार लखनऊ में बाबरी मस्जिद बनवाने जा रही है। उनका राम मंदिर का वादा भी जुमला साबित हुआ।

‘बीजेपी को ही बना दिया कांग्रेस युक्त’
तोगड़िया ने सीधे पीएम मोदी पर हमला बोलते हुए कहा, ‘कांग्रेस मुक्त भारत का नारा देते-देते बीजेपी को ही कांग्रेस युक्त बना दिया। कांग्रेस का कचरा, जिसे उनके यहां कोई नहीं पूछ रहा था उसे बीजेपी में लाकर बड़े पदों पर बैठा दिया। मूल भाजपाई बेचारा राम मंदिर का सपना देखते हुए अभी भी रो रहा है।’

तोगड़िया ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी युवाओं को रोजगार, सस्ती शिक्षा, करमुक्त किसान और सस्ता पेट्रोल देने तक में नाकाम रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमारा संघर्ष अयोध्या में राम मंदिर बनाने के साथ युवाओं को रोजगार, विद्यार्थियों को सस्ती शिक्षा, सस्ता पेट्रोल और कर्ज मुक्त किसान के लिए भी है।

प्रवीण तोगड़िया यहीं नहीं रुके गुजरात दंगों के बाद का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि जब पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी नरेंद्र मोदी को मुख्यमंत्री पद से हटाने में जुटे थे, तब तोगड़िया ने ही ढाल बनकर उनकी कुर्सी बचाई थी। इसलिए मेरा विरोध उनसे नहीं है।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »