प्रशांत किशोर पर चोरी का कंटेंट इस्तेमाल करने का आरोप, एफआईआर दर्ज़

पटना। प्रशांत किशोर पर चोरी का कंटेंट इस्तेमाल करने का आरोप में एफआईआर दर्ज़ की गई है।
कई राजनैत‍िक पार्ट‍ियों के चुनावी रणनीतिकार रहे प्रशांत किशोर के खिलाफ पटना में गुरुवार को एफआईआर दर्ज हुई। प्रशांत पर कार्यक्रम ‘बात बिहार की’ के लिए मोतिहारी के रहने वाले इंजीनियर शाश्वत गौतम का कंटेट चोरी करने का आरोप है।

पिछले दिनों प्रशांत ने ही यह कार्यक्रम बिहार में लॉन्च किया था। इसी के चलते प्रशांत और ओसामा (दूसरा आरोपी) के खिलाफ पटना के पाटलिपुत्र थाने में आईपीसी की धारा 406 और 420 यानी धोखाधड़ी के तहत केस दर्ज किया गया है।

प्रशांत पर केस दर्ज कराने वाले शाश्वत गौतम पहले कांग्रेस के लिए काम कर चुके हैं। शाश्वत ने उस समय ‘बिहार की बात’ नाम से एक प्रोजेक्ट बनाया था, जिसे भविष्य में लॉन्च करने की तैयारी थी। इसी बीच शाश्वत के साथ काम करने वाले युवक ओसामा ने इस्तीफा दे दिया। ओसामा पटना यूनिवर्सिटी का छात्र रहा है। वह स्टूडेंट यूनियन का चुनाव भी लड़ चुका है। आरोप है कि ओसामा ने ही कार्यक्रम का सारा कंटेंट प्रशांत किशोर को सौंपा। प्रशांत ने इसे अपनी वेबसाइट पर डाल दिया। शाश्वत ने इस बारे में पुलिस को कुछ सबूत भी सौंपे हैं।

एक आदमी ने दो मिनट का प्रचार पाने के लिए यह सब किया: प्रशांत किशोर

प्रशांत ने इस मुद्दे पर कहा- एक आदमी ने दो मिनट का प्रचार पाने के लिए यह सब किया है। जो भी जांच एजेंसियां हैं, उन्हें स्वतंत्र और निष्पक्ष जांच करनी चाहिए ताकि सच्चाई सामने आ सके। प्रशांत किशोर ने 20 जनवरी को कार्यक्रम ‘बात बिहार की’ लॉन्च किया था। प्रशांत के इस अभियान से कुछ घंटों के भीतर ही तीन लाख से ज्यादा लोग जुड़ गए थे। प्रशांत ने कहा था कि इस मुहिम के जरिए बिहार को बदलने की चाहत रखने वाले युवाओं को जोड़ा जाएगा। अगले 100 दिनों के भीतर इस अभियान से 10 लाख लोगों को जोड़ने का लक्ष्य रखा गया है।

– एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »