लैंड डील में फंसे प्रफुल्ल पटेल ईडी के सामने पेश हुए

मुंबई। दाऊद इब्राहिम के करीबी इकबाल मिर्ची के साथ कथित लैंड डील के मामले में फंसे एनसीपी नेता प्रफुल्ल पटेल शुक्रवार को ईडी के सामने पेश होने के लिए एजेंसी के कार्यालय पहुंचे। उन्हें बुधवार को ईडी की ओर से समन भेजा गया था। जांच एजेंसी ने पटेल को 18 अक्टूबर को ईडी ऑफिस में पेश होने के लिए कहा था।
इकबाल मिर्ची से लैंड डील की हो रही जांच
गौरतलब है कि ईडी कुख्यात गैंगस्टर दाऊद इब्राहिम के सहयोगी इकबाल मिर्ची और प्रफुल्ल पटेल के बीच एक कथित लैंड डील को लेकर जांच कर रही है। ईडी का आरोप है कि एनसीपी नेता के परिवार की ओर से प्रमोटेड कंपनी और इकबाल मिर्ची के बीच फाइनैंशल डील हुई थी। इस डील के तहत मिलेनियम डिवेलपर्स को मिर्ची का वर्ली स्थित एक प्‍लॉट दिया गया था। इसी प्लॉट पर मिलेनियम डिवेलपर्स ने 15 मंजिला कमर्शल और रेजिडेंशल इमारत का निर्माण किया है।
पटेल ने दी थी सफाई
इस इमारत का नाम सीजे हाउस रखा गया है। इसके बाद 2007 में कंपनी ने कथित तौर पर सीजे हाउस में 14 हजार वर्ग फीट के दो फ्लोर मिर्ची की बीवी हाजरा को एक रजिस्‍टर्ड अग्रीमेंट के तहत दे दिए गए। ईडी पटेल फैमिली की ओर से प्रमोटेड कंपनी मिलेनियम डिवेलपर्स प्राइवेट लिमिटेड और मिर्ची फैमिली के बीच हुए लीगल अग्रीमेंट की जांच कर रही है। वहीं अपने ऊपर लगे आरोपों पर सफाई देते हुए पटेल ने कहा कि इकबाल मेमन के साथ जिस जमीन की डील को लेकर आरोप लग रहे हैं, वह पूरी तरह कानूनी रूप से हुई थी।
पटेल ने कहा कि यह डील रजिस्ट्रार के सामने हुई थी। सारे दस्तावेज कलेक्टर के सामने रखे गए थे। अगर इकबाल मेमन दागी था, तो उस वक्त ही प्रशासन इस डील पर रोक लगा देता।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *