छोटा राजन और मुन्ना बजरंगी के नाम टिकट जारी करने पर डाक सहायक निलंबित

कानपुर। बड़ा चौराहा स्थित प्रधान डाकघर से अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा राजन और पूर्वांचल के माफिया मुन्ना बजरंगी के नाम पर माई स्टैंप टिकट जारी कर दी गई। जब मामला उच्चाधिकारियों तक पहुंचा तो खलबली मच गई। टिकट जारी करने वाले डाक सहायक रजनीश कुमार को प्रबर डाक अधीक्षक ने निलंबित कर दिया गया।
क्या होता है माई स्टैंप टिकट
माई स्टैंप टिकट योजना के अंतर्गत आवेदन करके कोई भी व्यक्ति डाकघर से अपना स्टैंप टिकट बनवा सकता है। इसके लिए आवेदक को अपनी पूरी जानकारी के दस्तावेज देने होते हैं। एक शीट में 12 टिकट जारी होती हैं, जिसे निकलवाने के 600 रुपये का खर्च आता है। इस टिकट को डाक टिकट की तरह भी इस्तेमाल किया जा सकता है।
बिना आधार जारी कर दी टिकट
डाकघर के फिलेटली विभाग में रजनीश कुमार प्रभारी पद पर तैनात हैं। यहां पर माई स्टैंप के लिए आवेदन करना होता है। उनके पास पहुंचे कल्याणपुर के एक युवक ने छोटा राजन (राजेंद्र एस निखलजे) और मुन्ना बजरंगी (प्रेम प्रकाश सिंह) की फोटो देकर ताजमहल की टिकट के ऊपर फोटो लगवाकर माई स्टैंप जारी करने के लिए आवेदन किया था। इसके बाद युवक ने माई स्टैंप कॉर्नर में फॉर्म में अपना नाम, पता और मोबाइल नंबर लिखकर रजनीश को दिया था। इसके बाद रजनीश ने एक घंटे में टिकट के ऊपर फोटो छाप कर स्टैंप बनाकर दे दिया।
पीएमजी ने मांगा था जवाब
प्रकरण की जानकारी होने पर पोस्ट मास्टर जनरल कानपुर परिक्षेत्र वीके वर्मा ने रजनीश को नोटिस जारी कर जवाब मांगा था कि बिना आधार कार्ड लिए माई स्टाम्प टिकट कैसे जारी कर दिया। जवाब संतोषजनक नहीं मिला तो रजनीश को निलंबित कर दिया गया। वहीं, वीके वर्मा ने फाइलों को मंगवा कर सभी माई स्टैंप टिकट के आवेदन को चेक किया।
मामले के बाद बंद हुआ कार्यालय, नदारद रहे कर्मी
डाकघर के सेकेंड फ्लोर पर स्थित फिलेटली कार्यालय से डॉन छोटा राजन और माफिया मुन्ना बजरंगी के नाम से डाक टिकट जारी होने के बाद खलबली मच गई। प्रकरण सुर्खियों में आने के बाद फिलेटली कार्यालय के बाहर ताला लटका हुआ है, जबकि प्रभारी रजनीश का मोबाइल नंबर बंद है।
फॉर्म में नहीं दर्ज है तारीख और नहीं है आधार
युवक द्वारा भरे गए फॉर्म में कहीं पर भी आवेदन देने की तारीख नहीं दर्ज है। फॉर्म में आधी अधूरी जानकारी ही दी गई है। इसमें ई मेल, क्या आईडी प्रूफ जमा कर रहे हैं, यह जानकारी लिखी ही नहीं है। आधार नंबर भी नहीं है और न ही फोटो प्रति लगाई गई है।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *