गुजरात से पलायन पर अब राजनीति, आरोप-प्रत्‍यारोप शुरू

गुजरात में बिहार और उत्तर प्रदेश के लोगों को धमकी देकर भगाए जाने के मामले पर अब सियासत तेज हो गई है। बीजेपी और जेडीयू ने इसके लिए कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराया है तो वहीं, कांग्रेस ने इस मामले पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से जवाब मांगा है।
इस बीच गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने कहा है कि पुलिस मामले में कार्यवाही कर रही है। बिहार में सत्तारूढ़ जनता दल (यूनाइटेड) ने सोमवार को कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी को खुला पत्र लिखकर विधायक अल्पेश ठाकोर को इस पूरे घटनाक्रम के लिए जिम्मेदार बताया। जेडीयू ने पूछा कि कांग्रेसियों को बिहार के लोगों से इतनी नफरत क्यों है?
बीजेपी ने कहा, गुजरात हिंसा के पीछे कांग्रेस
बीजेपी ने कहा है कि गुजरात हिंसा के लिए कांग्रेस जिम्मेदार है। पार्टी के वरिष्ठ नेता गिरिराज सिंह ने कहा कि यह कांग्रेस की सोची-समझी साजिश है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के लोग पूरे देश को खंडित करने में जुटे हैं। गिरिराज ने कहा कि सब कुछ अल्पेश की सेना कर रही है। उधर, अल्पेश ठाकोर ने अपना पक्ष रखते हुए कहा है कि उनके लोग हिंसा को बढ़ने से रोक रहे हैं और पिछले 1-2 दिन में काफी शांति आई है। उन्होंने ट्वीट करके कहा, ‘हम नहीं चाहते कि राज्य में विपदा खड़ी हो और हम ऐसी किसी भी हरकत को बढ़ावा नहीं देंगे।’ हार्दिक पटेल ने घटना की निंदा करते हुए मांग की है कि अपराधियों को कड़ी सजा मिलनी चाहिए।
कांग्रेस ने PM मोदी से मांगा जवाब
उधर, कांग्रेस ने इस मामले पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से जवाब मांगा है। गुजरात से ताल्लुक रखने वाले कांग्रेस के नेता अहमद पटेल ने कहा है कि सरकार को इसे गंभीरता से लेना चाहिए। यूपी कांग्रेस के अध्यक्ष राज बब्बर ने गुजरात और केंद्र की बीजेपी सरकार पर निशाना साधा है। कांग्रेस के नेता संजय निरुपम ने कहा, ‘पीएम के गृह राज्य (गुजरात) में अगर यूपी, बिहार और एमपी के लोगों को मार-मार कर भगाया जा रहा है तो ये याद रखना चाहिए कि एक दिन पीएम को भी वाराणसी जाना है। वाराणसी के लोगों ने उन्हें गले लगाया और पीएम बनाया था।’
जेडीयू ने राहुल गांधी को पत्र लिख पूछा
जेडीयू प्रवक्ता नीरज कुमार ने सोमवार को कांग्रेस अध्यक्ष को लिखे पत्र में आरोप लगाया कि एक ओर आप अपने विधायक अल्पेश ठाकुर को बिहार कांग्रेस का सह-प्रभारी निुयक्त करते हैं और दूसरी तरफ उनकी सेना ‘गुजरात क्षत्रिय ठाकोर सेना’ बिहार के लोगों को गुजरात से निकाल रही है।
उन्होंने पत्र में कहा है, ‘आज गुजरात में जो विकास दिख रहा है, वह बिहारी ही नहीं पूरे देश के लोगों के खून-पसीने का नतीजा है। गुजरात ही क्यों देश का हर क्षेत्र एक-दूसरे पर आश्रित है।’ पत्र में नीरज ने कांग्रेस के बहाने RJD पर भी निशाना साधते हुए कहा कि आज कांग्रेस को एक ऐसे दल से गठबंधन करने को मजबूर होना पड़ रहा है, जिसके अध्यक्ष सजायाफ्ता हैं। इतना ही नहीं, उनकी विरासत संभालने वाले उनके बेटे भी भ्रष्टाचार के आरोपी हैं।
जेडीयू प्रवक्ता ने कांग्रेस को निशाना बनाते हुए कहा कि विधायक अल्पेश लगातार उत्तर भारतीयों के खिलाफ जहर उगल रहे हैं, रैलियां कर रहे हैं लेकिन उनके खिलाफ कांग्रेस अनुशासनात्मक कार्यवाही तक नहीं कर पा रही है। जेडीयू नेता ने पत्र में लिखा है, ‘ठाकोर जैसे संकीर्ण मानसिकता वाले व्यक्ति को बिहार में कांग्रेस पार्टी का सह-प्रभारी बनाकर बिहारियों के प्रति घृणा का अहसास कराया गया है।’
लगातार पलायन का दावा
आपको बता दें कि गुजरात में 14 साल की बच्ची से रेप की घटना के बाद बिहार और उत्तर प्रदेश के लोगों को निशाना बनाया जा रहा है जिस कारण उत्तर भारत के लोग गुजरात से पलायन कर रहे हैं। माइग्रेंट वर्कर्स के संगठन ‘उत्तर भारतीय विकास परिषद’ के अध्यक्ष श्यामसिंह ठाकुर ने दावा किया है कि यूपी और बिहार से दो जून की रोटी कमाने गुजरात गए 50,000 से ज्यादा लोगों को पलायन के लिए मजबूर होना पड़ा है। हालांकि प्रशासन का कहना है कि लोग त्योहार मनाने के लिए अपने घरों की ओर जा रहे हैं।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »