यूपी के चार शहरों में पुलिस की बदमाशों से मुठभेड़: 25 हजार का इनामी बदमाश मारा गया, एक अन्‍य इनामी गिरफ्तार

लखनऊ। यूपी में कानून व्यवस्था सुधारने और अपराध पर लगाम लगाने के लिए पुलिस बदमाशों को ठिकाने लगा रही है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बीती रात गोरखपुर और सहारनपुर के बाद मंगलवार सुबह अमरोहा और आजमगढ़ में भी बदमाशों के साथ पुलिस की मुठभेड़ हुई। इस दौरान 25 हजार का इनामी बदमाश मारा गया।
मंगलवार सुबह आजमगढ़ पुलिस ने 25000 रुपये के इनामी बदमाश छन्नू सोनकर को एक मुठभेड़ के दौरान मार गिराया। इस मुठभेड़ में एसओ जहानागंज अंगद तिवारी की बुलेटप्रूफ जैकेट में गोली लगी, जबकि एक सिपाही गोली लगने से घायल हो गया। घायल सिपाही सुभाष का इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है। यह मुठभेड़ जहानागंज थाना के बैजहा के पास हुई। छन्नू पर हत्या और लूट के दर्जनभर से अधिक मुकदमे दर्ज थे।
पुलिस अधीक्षक अजय साहनी ने बताया कि छन्नू और उसका साथी किसी की बाइक छीनकर भाग रहे थे। इसकी सूचना डायल 100 पर मिलने के बाद जहानागंज पुलिस और बदमाशों में बैजहा के पास मुठभेड़ हो गई। मुठभेड़ के दौरान भाग रहे बदमाशों ने पुलिस टीम पर फायरिंग कर दी। इसमें एसओ जहानागंज अंगद तिवारी को गोली लगी, लेकिन बुलेटप्रूफ जैकेट पहनने के कारण वह बाल-बाल बच गए। वहीं आरक्षी सुभाष गोली लगने के बाद बुरी तरह घायल हो गए।
पुलिस की जवाबी कार्यवाही में बदमाश छन्नू घायल हो गया। हालांकि उसका एक साथी मौके फरार हो गया। अस्पताल में इलाज के दौरान छन्नू की मौत हो गई।
वहीं अमरोहा में भी एक इनामी बदमाश पकड़ा गया। यहां डिडौली कोतवाली इलाके के गांव जुहरी में मुठभेड़ के दौरान पुलिस ने 15 हजार के इनामी बदमाश गजेंद्र सिंह को गिरफ्तार कर लिया। बता दें कि पिछले साल यूपी पुलिस को मुठभेड़ में बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। वर्ष 2017 में पूरे उत्तर प्रदेश में 895 पुलिस एनकाउंटर हुए जिसमें 26 अपराधियों को मार गिराया गया और 196 अन्य घायल हो गए।
डीजीपी सुलखान सिंह के कार्यालय के मुताबिक बीते साल अपराध प्रभावित मेरठ जोन में कुल 359 एनकाउंटर हुए। वर्ष 2017 में जिन 26 अपराधियों को मार गिराया गया, उनमें से 17 केवल मेरठ जोन में हुए पुलिस एनकांउटर में मारे गए।
-एजेंसी