कांग्रेस के घोषणापत्र पर पीएम ने कहा, देशद्रोहियों के साथ है ”हाथ”

पासीघाट (अरुणाचल प्रदेश)। कांग्रेस के घोषणापत्र में राजद्रोह को अपराध के दायरे से बाहर करने के वादे पर पीएम नरेंद्र मोदी ने तीखा हमला बोला है। अरुणाचल प्रदेश के पासीघाट में एक रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस देश के साथ है या फिर देशद्रोहियों के साथ।
पीएम मोदी ने कहा, ‘कांग्रेस ने देश को गाली देने वालों के लिए भी एक योजना बनाई है। भारत तेरे टुकड़े होंगे के नारे लगाने वाले, तिरंगा जलाने वाले और आंबेडकर की मूर्तियां तोड़ने वालों से भी कांग्रेस को सहानुभूति है। भारत के संविधान को न मानने वालों को भी बचाने का वादा कांग्रेस ने दिया है।’
पीएम मोदी ने कांग्रेस के घोषणापत्र पर गहरा तंज कसते हुए उसे ढकोसला पत्र करार दिया। पीएम मोदी ने कहा कि एक तरफ इरादों वाली सरकार तो दूसरी तरफ झूठे वादों वाले नामदार हैं। उनका घोषणापत्र भी झूठ से भरा होता है, इसे घोषणापत्र नहीं ढकोसला पत्र कहना चाहिए। पीएम मोदी ने पासीघाट की रैली में लोगों से पूछा कि क्या आप इस चौकीदार से खुश हैं? पीएम मोदी ने कहा कि यह चुनाव संकल्प और साजिश, भ्रष्टाचार और भरोसे के बीच का चुनाव है। आपकी परंपरा, परिधान का सम्मान करने वालों और अपमान करने वालों के बीच यह चुनाव होना है।
‘कांग्रेस का 2004 का वादा 2014 तक नहीं हुआ पूरा’
पीएम मोदी ने कहा कि हमने अपने कार्यकाल में देश के हर घर तक बिजली पहुंचाने का काम किया है। इसके लिए हमने 18 हजार गांवों और 3 करोड़ परिवारों को रोशन किया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने यह वादा 2004 में किया था लेकिन 2014 तक पूरा नहीं किया। पीएम मोदी ने कहा, ‘कांग्रेस ने 2004 में कहा था कि 2009 तक हर घर में बिजली पहुंचाएंगे। इसके लिए प्रोग्राम भी घोषित किया, लेकिन 2014 में जब मैं आया तो देश के 18000 गांव और 3 करोड़ लोग अंधेरे में थे। 2014 का चुनाव आया तो फिर एक वादा दोबारा दोहराया तो कहा कि शहरों में 100 पर्सेंट और गांवों में 90 पर्सेंट बिजली पहुंचाएंगे। पीएम ने कहा कि 2004 में कह रहे थे, सबको पहुंचाएंगे। 2009 में कहा कि कुछ छूट जाएंगे और 2014 में भी यही हाल रहा।’
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »